" /> कोरोना की लड़ाई में टाटा समूह पूरी ताकत से सरकार के साथ है खड़ा- मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

कोरोना की लड़ाई में टाटा समूह पूरी ताकत से सरकार के साथ है खड़ा- मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

*मुंबई मनपा को मिला टाटा समुह का साथ
*प्लाज्मा थेरेपी के लिए दिए गए 10 करोड़, 100 वेंटिलेटर्स, 20 एंबुलेंस

समाज का हर घटक एक साथ आता है और विपत्ति का सामना करता है, तो सफलता अवश्य मिलती है। टाटा ग्रुप जैसे उद्योग संगठन कोरोना के विरुद्ध उसी जिद के साथ लड़ते हुए सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रहा है। हम कोरोना की लड़ाई अवश्य जीतेंगे, ऐसा विश्वास मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कल व्यक्त किया।
मुंबई मनपा क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओं के बुनियादी ढांचे को बढ़ाने के लिए मुंबई मनपा और टाटा समूह द्वारा संयुक्त रूप से कार्यान्वित किए गए प्लाज्मा प्रोजेक्ट के तहत मुख्यमंत्री की उपस्थिति में 20 एंबुलेंस, 100 वेंटिलेटर और 10 करोड़ रुपए मनपा को सौंपे गए। इस मौके पर पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे, मुंबई के पालक मंत्री असलम शेख, महापौर किशोरी पेडणेकर आदि  उपस्थित थे।
टाटा समूह राज्य सरकार के साथ शुरू से ही पूरी ताकत से खड़ा है। कोरोना संकट को समाप्त करने के लिए हम सभी पूरी ताकत व जिद के साथ उतरे हैं। सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर नागरिक और बड़े उद्योगपति लड़ रहे हैं। “हर कोई अथक परिश्रम कर रहा है और  सफलता अवश्य  मिलेगी, ऐसा विश्वास मुख्यमंत्री ने व्यक्त किया।
कोरोना की लड़ाई में पहले दिन से सरकार के साथ है टाटा समूह- आदित्य ठाकरे
इस अवसर पर पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि टाटा समूह कोरोना काल के पहले दिन से सहयोग कर रहा है। अब भी उन्होंने 20 एंबुलेंस, 100 वेंटिलेटर और प्लाज्मा थेरेपी के लिए 10 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की है। उन्होंने भगवान से प्रार्थना की कि इस सामग्री का उपयोग करने का समय नहीं आए और टाटा समूह को उनकी मदद के लिए आभार प्रकट किया। इस अवसर पर पालक मंत्री असलम शेख ने कहा कि कोरोना से मुक्ति पाने के लिए निर्भय होकर कदम उठाए जा रहे हैं इसलिए जल्द ही महाराष्ट्र कोरोना मुक्त होगा, ऐसा विश्वास असलम शेख ने व्यक्त किया। इस अवसर पर महापौर श्रीमती पेडणेकर, टाटा समूह के अध्यक्ष एन. चंद्रा ने भी अपने विचार व्यक्त किए।