" /> मुंबई पर फिर आतंकी खतरा!

मुंबई पर फिर आतंकी खतरा!

एरियल मिसाइल, पैरा ग्लाइडर्स से हो सकता है हमला
वीवीआईपी इलाके टार्गेट पर
खुफिया इनपुट के बाद अलर्ट जारी

त्योहारों से पहले देश को दहलाने की एक बड़ी साजिश का पर्दाफाश हुआ है। खुफिया विभाग के इनपुट के मुताबिक एक बार फिर देश की आर्थिक राजधानी मुंबई पर आतंकी खतरा मंडरा रहा है। बताया जा रहा है कि ये आतंकी हमला ड्रोन, लाइट एयरक्राफ्ट, एरियल मिसाइल या फिर पैरा ग्लाइडर्स से हो सकता है। आतंकी वीआईपी इलाके को अपना निशाना बना सकते हैं। खुफिया अलर्ट के बाद मुंबई में ड्रोन, लाइट एयरक्राफ्ट्स और पैरा ग्लाइडिंग पर ३० अक्टूबर से लेकर २८ नवंबर तक रोक लगा दी गई है।

बता दें कि खुफिया विभाग के पत्र के बाद मुंबई में अलर्ट जारी किया गया है। मुंबई पुलिस द्वारा जारी किए गए अलर्ट पत्र में कहा गया है कि इनपुट को ध्यान में रखते हुए किसी भी फ्लाइंग ऑब्जेक्ट को उड़ाने पर बैन लगाया गया है। पुलिस ने शहर में धारा-१४४ लागू कर दी है। आदेश में कहा गया है कि अगले ३० दिनों तक यह आदेश लागू रहेगा। वहीं, मुंबई पुलिस के उपायुक्त एस. चैतन्य ने लोगों के लिए एक अपील जारी की है। उन्होंने अपील में कहा है कि लोगों को आतंकी हमले के आदेश को लेकर घबराने की जरूरत नहीं है। लोग डरें नहीं, बस सतर्क रहें।
पुलिस सूत्रों की मानें तो आतंकी, त्योहारों के दौरान मुंबई में रिमोट से कंट्रोल किए जानेवाले एयरक्राफ्ट या एयर मिसाइल के जरिए भीड़भाड़ वाले इलाकों में हमला कर सकते हैं। जानकारों की मानें तो मौजूदा वक्त में पाकिस्तान और आतंकी संगठन न केवल राजनीतिक अस्थिरता, बल्कि त्योहारों में खलल डालने के लिए किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सकते हैं। खुफिया सुरक्षा एजेंसी के सूत्रों पर भरोसा करें तो पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने हिंदुस्थान में हमलों की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद और अल-बद्र को दी है। इन संगठनों के आतंकियों को विशेष ट्रेनिंग देकर रावलकोट, खुईरेट्टा, समानी और सियालकोट के लांच पैड्स पर भेज दिया गया है।