प्रदूषण नियंत्रण यंत्र प्रदूषित! आधे से ज्यादा बंद है मशीन

ठाणे शहर में हवा को शुद्ध करने के लिए लगाए गए प्रदूषण नियंत्रण यंत्र मनपा प्रशासन की लापरवाही के चलते प्रदूषित हो गए हैं यानी बंद पड़ गए हैं। आधे से अधिक बंद पड़े इस यंत्रों को ठीक करने की बजाय प्रशासन इनके माध्यम से विज्ञापन करता नजर आ रहा है।
बता दें कि ठाणे मनपा प्रशासन ने ठाणे शहर के ४० चौकों में ४० से अधिक प्रदूषण नियंत्रण यंत्र लगाए हैं, जिसमें नितिन कंपनी, तीनहात नाका चौक, वैâडबरी जंक्शन और ठाणे रेलवे स्टेशन का समावेश है। लगाए गए यंत्रों में से आधे से अधिक यंत्र पिछले कुछ महीनों से बंद हो गए हैं, जिसमें तीनहात नाका पर लगाए गए १० यंत्रों में से ६ यंत्र बंद अवस्था में हैं इसी तरह नितिन कंपनी जंक्शन पर भी लगाया गया एक यंत्र बंद है। इसी प्रकार ठाणे रेलवे स्टेशन परिसर में लगाए गए ६ प्रदूषण नियंत्रण यंत्रों में से तीन बंद हो गए हैं। ठाणे मनपा उपायुक्त संदीप मालवी ने बताया कि यदि यंत्र बंद होंगे तो उन्हें जल्द से जल्द ठीक कर दिया जाएगा।
क्या है प्रदूषण नियंत्रण यंत्र?
प्रदूषण नियंत्रण यंत्र ५ फुट ऊंचाई और ढाई फुट चौड़ाई वाली मशीन है, इसमें अलग तरीके से पंखा लगाया गया है। यंत्र में लगाए गए पंखे ०.५ एचपी द्वारा २ हजार सीएफएम हवा ग्रहण करती है। साथ ही हवा में मौजूद २५ से ५० मायक्रॉन आकारवाले धुलीकरण को फिल्टर कर शुद्ध हवा छोड़ने का कार्य करती है लेकिन यंत्र बंद होने के चलते हवा और भी दूषित हो रही है।