" /> राजर्षि शाहू महाराज और माता रमाबाई का स्मारक हो प्रेरणादायी -पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे

राजर्षि शाहू महाराज और माता रमाबाई का स्मारक हो प्रेरणादायी -पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे

गिरगांव और वर्ली में राजर्षि छत्रपति शाहू महाराज एवं वर्ली में माता रमाबाई का प्रस्तावित स्मारक प्रेरणादायी हो, ऐसा निर्देश पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने संबंधित अधिकारियों को दिया। इतना ही नहीं, उन्होंने छुट्टियों में काला घोड़ा फेस्टिवल में आनेवाले पर्यटकों की बड़ी संख्या को ध्यान में रखकर वहां के फुटपाथों के सौंदर्यीकरण का भी सुझाव संबंधित अधिकारियों को दिया।
इस संबंध में कल पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे की अध्यक्षता में सह्याद्रि गेस्ट हाउस में एक विशेष बैठक का आयोजन किया गया था। इस अवसर पर मनपा के अतिरिक्त आयुक्त संजीव कुमार, अपर आयुक्त (परिवहन) सत्यनारायण चौधरी, उपायुक्त हर्षद काले, सहायक आयुक्त शरद उघडे, प्रशांत गायकवाड़ आदि उपस्थित थे।
आदित्य ठाकरे ने कहा कि दोनों स्मारकों पर आनेवाले पर्यटकों को यहां आकर आनंद प्राप्त हो, इन महान हस्तियों की उपलब्धियों से परिचित हों, साथ ही ये सर्वोत्तम स्मारक स्थल साबित हों, ऐसी आकर्षक डिजाइन बनाई जाए। स्मारक स्थल परिसर में छोटे उद्यान और बैठने की व्यवस्था की जाए। गिरगांव में प्रस्तावित स्मारक के पास क्यूआर कोड के माध्यम से राजर्षि छत्रपति शाहू महाराज के कार्यों की जानकारी देने का भी प्रयास किया जाए, वहीं कोल्हापुर जिले के नागरिकों से भरे वर्ली क्षेत्र में सुंदर स्मारक बनाने का प्रस्ताव पेश करने की हिदायत पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने दी।
काला घोड़ा परिसर में छुट्टियों पर बड़ी संख्या में नागरिक आते हैं। ऐसे में वहां की मुख्य सड़कों और आंतरिक सड़कों को सुविधायुक्त और सुंदर बनाने का निर्देश भी उन्होंने इस दौरान दिया। इस कार्य के साथ ही उन्होंने दहिसर के साथ-साथ शहर की विभिन्न सड़कों पर यातायात की समस्या के समाधान, गिरगांव चौपाटी के पास दर्शक गैलरी के कार्य आदि की समीक्षा कर कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया।