" /> पीएम से पूजा करवाने वाले पुजारी की पीड़ा!

पीएम से पूजा करवाने वाले पुजारी की पीड़ा!

दोबारा करवाओ कोरोना टेस्ट
हल्की सर्दी-खराश को बता दिया पॉजिटिव

आगामी ५ अगस्त को अयोध्या में रामलला के मंदिर का भूमिपूजन होने जा रहा है। भूमिपूजन स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करनेवाले हैं। मगर पीएम से पूजा करवानेवाले पुजारी प्रदीप दास की पीड़ा उभर कर सामने आई है। पुजारी प्रदीप दास रामलला मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास के शिष्य हैं। तीन दिन पहले प्रदीप दास समेत वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों का भी कोरोना टेस्ट किया गया था। इसमें प्रदीप दास व १४ पुलिसकर्मी पॉजिटिव पाए गए थे, जबकि आचार्य सत्येंद्र दास का रिजल्ट निगेटिव आया था। अब प्रदीप दास का कहना है कि मामूली सर्दी-खराश को भी पॉजिटिव बता दिया गया है। प्रदीप दास ने इसका विरोध करते हुइ कहा है कि उनका फिर से कोरोना टेस्ट किया जाना चाहिए।
मंदिर के पुजारी प्रदीप दास का कहना है कि वो टेस्ट से संतुष्ट नहीं हैं। पुजारी प्रदीप दास ने कहा, ‘राम जन्मभूमि परिसर और आसपास मेरे समेत कई लोग कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाए गए। जिन्हें सर्दी -खराश थी, उनको भी  पॉजिटिव बताया जा रहा है। हमारी जांच दोबारा होनी चाहिए। जिन लोगों को कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाया गया है, उन सब के नाम मुझे पूरी तरह याद नहीं हैं। लिस्ट बनी है, उसमें सब नाम लिखे होंगे। मुझे छोड़ कर बाकी सारे पुलिसवाले हैं, जिनमें एक महिला दारोगा भी है। जांच बहुत सारे लोगों की हुई है।’

राम जन्मभूमि परिसर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास का टेस्ट निगेटिव आया है। हालांकि प्रशासन ने उन्हें भी सावधानी के तौर पर ३ दिन के लिए होम क्वारनटीन में रहने के लिए कहा है। ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि सहायक पुजारी प्रदीप दास का टेस्ट रिजल्ट पॉजिटिव आया है। इस बीच आचार्य सत्येंद्र दास ने भी कहा है कि मंदिर के जो सुरक्षा कर्मचारी हैं, उनकी अलग बात है। लेकिन हमारे मंदिर से संबंधित लोग संक्रमित नहीं हैं। किसी भी प्रकार का ऐसा कोई पॉजिटिव केस नहीं मिला है। और जिन लोगों की जांच हुई है वह सभी निगेटिव पाए गए हैं। इसलिए परिसर में कोरोना वायरस पैâलने की शंका जो लोग करते हैं वह गलत है।’