" /> कार्यालय का बदलेगा टाइम : कंट्रोल होगी लोकल की भीड़

कार्यालय का बदलेगा टाइम : कंट्रोल होगी लोकल की भीड़

मनपा की पहल

लॉकडाउन के दौरान बंद उपनगरीय लोकल ट्रेन शुरू हो गई है। अब जैसे-जैसे लोकल ट्रेनों में भीड़ बढ़ती जा रही है वैसे- वैसे सोशल डिस्टेंसिंग अन्य सावधानियों का पालन करना एक चुनौती बन गई है। ऐसे में मनपा कर्मचारियों के कार्यालयीन समय में बदलाव करने की योजना पर काम कर रही है, जिससे लोकल ट्रेन की भीड़ भी कंट्रोल में रहेगी और सोशल डिस्टेंसिंग आदि नियमों का पालन आसानी से होगा।
बता दें कि मुंबई में यात्रा करने का सबसे सुगम साधन है लोकल ट्रेन। लोकल ट्रेनें अलग-अलग लाइनों पर चलती हैं, जिससे मुंबई के अलग-अलग हिस्सों से लोग अपने दफ्तर तक जाते हैं। मुंबई देश की आर्थिक राजधानी है और ज्यादातर महत्वपूर्ण आर्थिक कार्यालय वे चाहे केंद्र सरकार के हों या राज्य सरकार के, बैंकिग ऑफिस हों या प्राइवेट दफ्तर या फिर मनपा का ऑफिस यह सब दक्षिण मुंबई टाउन और कोलाबा इलाके में स्थित है। यह मुंबई के एक छोर पर पड़ता है और मुंबई के इस छोर को मुंबई के दूसरे छोर से जोड़ने वाले रेल नेटवर्क जैसे वसई विरार से चर्चगेट को जोड़ने वाली वेस्टर्न लाइन या नई मुंबई को सीएसएमटी से जोड़ने वाली सेंट्रल लाइन, मुंबई की हर दिशा से एक ही दिशा को आती है जो साउथ मुंबई कोलाबा का इलाका है। ऐसे में एक ही समय पर ऑफिस का टाइमिंग होने के चलते पीक आवर्स (सुबह आठ से लेकर 11 तक और शाम को पांच से लेकर आठ बजे तक) में भीड़ इतनी ज्यादा होती है कि ट्रेन में पैर रखने की भी जगह नहीं होती। इस समस्या पर पहले भी कई बार चर्चा हो चुकी है लेकिन पर अब करोना कॉल में सीमित ट्रेनों की फेरी और बढ़ती भीड़ के बीच मनपा नई योजना बना रही है। इस योजना के तहत मनपा केंद्र सरकार, राज्य सरकार, बैंक और मनपा के ऑफिस की टाइमिंग को इस तरह से व्यवस्थित करने जा रही है कि लोकल ट्रेनों में भीड़ ही न हो। इस योजना के तहत ऑफिस के शुरू होने का टाइम बदला जाएगा और यह सुबह आठ से 11तक पीक ऑवर के दौरान होगा। दफ्तरों के शुरू होने का टाइम आठ से 11 के बीच किया जाएगा। कोई ऑफिस आठ बजे खुलेगा तो कोई ऑफिस नौ बजे खुलेगा, कोई ऑफिस दस बजे खुलेगा, कोई ऑफिस 11 बजे खुलेगा। इस तरह से शाम को भी कोई ऑफिस पांच बजे बंद होगा तो कोई ऑफिस छह बजे बंद होगा कोई ऑफिस सात बजे बंद होगा। ऐसा करने से भीड़ कुछ-कुछ अंतराल पर स्टेशन पर पहुंचेगी और ट्रेनों में भारी भीड़ नहीं होगी।
मनपा की इस योजना को लेकर यात्रियों में भी खुशी है। यात्री एसोसिएशन के पदाधिकारी मंसूर दरवेश का कहना है कि यह मांग तो बहुत समय से उठा रहे थे पर करोना कि टाइम में जैसे भीड़ बढ़ रही है उसके साथ चिंता भी बढ़ रही है। अब अगर ऑफिस टाइमिंग आगे पीछे की जाती है तो अच्छा होगा। मनपा की योजना कारगर हो गई तो मुंबई में लोकल में होने वाली भीड़ की सूरत बदल जाएगी।