" /> फिल्म जगत की दो पीढ़ियों के बीच का धागा टूट गया : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दी ऋषि कपूर को श्रद्धांजलि

फिल्म जगत की दो पीढ़ियों के बीच का धागा टूट गया : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दी ऋषि कपूर को श्रद्धांजलि

भारतीय फिल्म जगत को भारी योगदान देनेवाले घराने के वारिस, स्वतंत्र प्रतिभा के मनस्वी और मजे हुए अभिनेता ऋषि कपूर के निधन से कला क्षेत्र को बहुत बड़ी क्षति हुई है। फिल्म जगत में दो पीढ़ियों के बीच का मार्गदर्शक धागा टूट गया है। ऐसे शब्दों में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर को श्रदांजलि दी है।
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने शोक संदेश में कहा कि भारतीय सिनेमा के महान शो-मैन राज कपूर के परिवार के पृथ्वीराज कपूर के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। परिवार की इस विरासत का पोषण ऋषि कपूर ने किया था। वह सामग्री और प्रौद्योगिकी की मदद से मनोरंजन और फिल्म के क्षेत्र में नए प्रयोग करने में सफल रहे। वह फिल्म निर्माण से लेकर ‘फिल्म इंडस्ट्री ’तक के कलात्मक गोद लेने तक के सफर में सक्रिय रहे। वह एक सहज सुंदर अभिनेता होने के साथ-साथ एक सख्त किंतु सरल स्वभाव के व्यक्ति थे। उन्होंने रंगमंच, लेखन, निर्देशन और उत्पादन के साथ-साथ अपने चिरस्थायी व्यक्तित्व के क्षेत्र में भी रचनात्मक छाप छोड़ी है। वह फिल्म निर्माण में नई पीढ़ी के लिए एक आशाजनक मार्गदर्शक थे। उनके निधन दो पीढ़ियों के कलाकारों के बीच जो मार्गदर्शक धागा था वह टूट गया। ऋषि कपूर के निधन से भारतीय कला क्षेत्र को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। इस अपूरणीय क्षति को भरा नहीं जा सकता है। ऐसे शब्दों में मुख्यमंत्री ने ऋषि कपूर की भावभीनी श्रद्धांजलि दी।