देव, देश और धर्म के लिए शिवसेना-भाजपा ने युति की! उद्धव ठाकरे की हुंकार

हातकणंगले में जोरदार भाषण देने के बाद कल शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे कोल्हापुर में गरजे। कांग्रेस-राकांपा आघाड़ी को आड़े हाथों लेते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमने देव, देश और धर्म के लिए युति की है। तुम्हारी तरह नहीं जो देशद्रोह की धारा को हटाने की बात अपने घोषणापत्र में करते हैं। हम अयोध्या में पहले मंदिर फिर सरकार बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं। गद्दारों के लिए देशद्रोह का कानून जरूरी है, जिसे हम किसी भी कीमत पर हटाने नहीं देंगे। देश को तोड़नेवाली बात करनेवाली पार्टियों के टुकड़े जनता करेगी।
बता दें कि कल कोल्हापुर स्थित गडहिंग्लज में उद्धव ठाकरे विरोधियों पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि युति सरकार को हराने के लिए ५६ दल एकजुट हुए हैं। फिल्मी अभिनेत्रियों को भी प्रचार के लिए उतारा जा रहा है लेकिन हमारी सभा में भीड़ जुटाने के लिए किसी अभिनेत्री की जरुरत नहीं है। कांग्रेस ने ६० वर्षों तक देश को लूटा है लेकिन अब और नहीं। भाजपा-शिवसेना में मतभेद हुए लेकिन यह मतभेद जनता की समस्याओं को लेकर रहा। फिर चाहे वो नाणार परियोजना हो या मुंबई के मुद्दे हों या फिर राम मंदिर का मुद्दा हो। इन सभी मुद्दों पर भाजपा ने न केवल सकारात्मकता दिखाई बल्कि इन्हें सुलझाया भी इसीलिए हम फिर से एक साथ आए हैं।
शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने एमआईएम के ओवैसी को भी जमकर लताड़ा। उन्होंने कहा कि निजाम को समर्थन देने के लिए एमआईएम की स्थापना की गई। ओवैसी, संभाजीनगर में आकर औरंगजेब की कब्र पर माथा टेकता है और दूसरी तरफ संभाजी महाराज थे, जिन्होंने प्राण जाने पर भी अपना धर्म नहीं बदला। क्या आप देश के टुकड़े करने की बात करनेवाले प्रत्याशी को अपना सांसद चुनना चाहेंगे? उनके इस सवाल के जवाब में जनता ने एक स्वर में कहा, ‘नहीं’? उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि ऐसा बयान देनेवालों के टुकड़े जनता करेगी। इस दौरान उद्धव ठाकरे ने ममता बनर्जी को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने ममता बनर्जी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि क्या बांग्लादेशी फिल्मी सितारों के बल पर हिंदुस्थान में चुनाव प्रचार करवाकर वो सांसदों को चुनकर लाएंगी? उन्होंने कहा कि खुद का विचार न करते हुए जनता के बारे में सोचनेवाला सांसद चाहिए और जनता का आशीर्वाद संजय मंडलिक के साथ है। चुनाव में उन्हें भारी मतों से विजयी बनाएं। केंद्र में ऐसी सरकार चाहिए, जो जवानों के लिए लड़े, न कि देशद्रोहियों का समर्थन व संरक्षण करे।
हमें विजय का बिगुल बजाना है – उद्धव ठाकरे
शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने हातकणंगले में शिवसेना-भाजपा-आरपीआई महायुति के उम्मीदवार धैर्यशील माने के प्रचारार्थ आयोजित सभा में अपनी ठाकरी तोप दागी। उद्धव ठाकरे ने कहा कि धैर्यशील माने कभी भी भगवा ध्वज का साथ नहीं छोड़ेगा। उन्होंने कहा कि सीमा पर लड़नेवाले जवानों को यह बात समझ में आनी चाहिए कि हिंदुस्थान ही नहीं, महाराष्ट्र में भी मर्द जवान हैं, जो जवानों का साथ देनेवाली सरकार को चुनकर लाएंगे। उद्धव ठाकरे ने कहा कि गर्मी के दिनों में लोकसभा का चुनाव होता है। इस भीषण गर्मी में धैर्यशील नाम का सूरज दिल्ली में चमकेगा। राजू शेट्टी क्या, कैसी सीटी? हमें सीटी नहीं चाहिए बल्कि हमें विजय का बिगुल बजाना है। उसकी आवाज दिल्ली तक पहुंचनी चाहिए। जिले को साफ करने के लिए एक अच्छे सांसद को दिल्ली भेजो। उद्धव ठाकरे ने सवाल भी किया कि पंचगंगा मामले में क्या हुआ? उन्होंने किसानों को विश्वास दिलाया कि किसान जो भी आंदोलन करेंगे, शिवसेना उनका खुलकर साथ देगी।