" /> पेट्रोल खत्म होने तक चलाते थे वाहन : वाहन चोरों के गिरोह का भंडाफोड़

पेट्रोल खत्म होने तक चलाते थे वाहन : वाहन चोरों के गिरोह का भंडाफोड़

मुंब्रा पुलिस ने दुपहिया वाहन चोर एवं बिगड़ैल नवयुवकों के एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो पार्क किए गए दुपहिया वाहनों का लॉक तोड़कर तब तक उसका उपयोग करते थे, जब तक उसमें पेट्रोल खत्म नहीं हो जाता था। पेट्रोल खत्म होने के बाद वे उसे आसपास कहीं छुपाकर रख देते थे। इस मामले में पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और अलग-अलग जगहों पर रखे गए करीब 7 लाख मूल्य के 12 दुपहिया वाहन तथा 3 ऑटो रिक्शा को बरामद कर लिया है।
उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन के दौरान शहर में चोरी, घरफोड़ी सहित अन्य आपराधिक घटनाओं में बेहद कमी दर्ज की गई थी पर अब थोड़ी ढील के बाद शहर के कुछ भागों में चोरी तथा घरफोड़ी की छिटपुट घटनाएं शुरू हो गई हैं। इनमें से सबसे ज्यादा वाहन चोरी तथा घरफोड़ी की घटनाएं मुंब्रा तथा डायघर पुलिस थाने में दर्ज हुई हैं। कोरोना कंट्रोल करने में जुटी पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू की तो बाइक के शौकीन बिगड़ैल नवयुवकों की एक टोली पुलिस के हत्थे चढ़ गई। मुंब्रा पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मधुकर कड ने बताया कि सूचना के आधार पर पुलिस ने 23 जून से 29 जून के बीच अलग-अलग जगहों पर छापेमारी की है औऱ 3 लाख 80 हजार मूल्य की विभिन्न कंपनियों के 12 दुपहिया वाहन तथा 2 लाख 90 हजार मूल्य का 3 ऑटोरिक्शा बरामद किया है। इस मामले में मुंब्रा के अमृत नगर परिसर, कैलास नगर स्थित मुल्ला चाल निवासी अब्दुल अरशद रज्जाक शेख (19), दिवा के साबे रोड़, पाटील नगर स्थित कंस्ट्रक्शन चाल निवासी सूरज राम अवधेश सरोज (19), कौसा के रसीद कंपाउंड स्थित 105 ए विंग बरकत पार्क निवासी सुफियान अंसारी (20) तथा 109 इकबाल कालोनी बरकत पार्क निवासी अम्मान रजा अब्दुल अजीज शेख (20) को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि आरोपी पार्क किए हुए वाहनों का लॉक तोड़कर इधर-उधर घूमते थे। पेट्रोल खत्म होने के बाद आसपास छुपाकर वाहन को पार्क कर देते थे। वाहन चोरी के कुल 14 मामलों का अभी तक भंडाफोड़ हो चुका है। इनमें से 13 मुंब्रा तथा एक डायघर पुलिस से संबंधित है।