जल संकट! पेट्रोल डीजल पर लग सकता है ‘वॉटर सेस’

देश के कई राज्यों में जल संकट है। तमिनलाडु में पानी की रेशनिंग की परिस्थित आ गई है तो महाराष्ट्र में 2018 के अक्तूबर महीने से ही कई गावों में पानी के टैंकर द्वारा जलापूर्ति की जा रही है। जल संकट की इस गंभीरता को समझते हुए केंद्र सरकार अब नीति में सुधार करने के योजना बना रही है। जिसमें पेट्रोल-डीजल पर ‘वॉटर सेस’ लगाने का भी विचार है।

हिंदी के एक समाचार पत्र के अनुसार केंद्र सरकार ने ‘वॉटर सेस’ लगाने के संदर्भ में पेट्रोलियम मंत्रालय से चर्चा शुरू कर दी है। इस पर पेट्रोलियम मंत्रालय ने सहमति भी व्यक्त की है। यदि ऐसा हुआ तो ईंधन (पेट्रोल-डीजल) पर प्रति लीटर 30-50 पैसे ‘वॉटर सेस’ लग सकता है। हालांकि, जानकारों का मानना है कि इस ‘वॉटर सेस’ से ईंधन की कीमतों पर कोई फर्क महसूस नहीं होगा क्योंकि ईंधन की कीमतों में बदलाव से इस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

बता दें कि, 2018  के बजट में ईंधन पर 8 रुपए का सेस लगाया गया था। इस सेस से जमा पूंजी का सड़क निर्माण और संसाधन विकास के लिए उपयोग किया जाना है।