बाप-बेटे निकले पानी चोर

पानी की भारी किल्लत के बीच जलवाहिनी में छेद कर प्रतिदिन करीब ५ लाख लीटर पानी की चोरी करने के आरोप में मुंब्रा पुलिस ने बाप-बेटे के विरुद्ध विभिन्न आपराधिक धाराओं में मामला दर्ज किया है। दोनों आरोपी फरार हैं। फिलहाल पानी चोरी करनेवाले दोनों आरोपी बाप-बेटे फरार हैं।
उल्लेखनीय है कि दिवा तथा मुंब्रा के विभिन्न इलाकों में जहां लोगों को पीने का पानी नहीं मिल पा रहा है, वहीं दिवा से सटे आगासन रेलवे लाइन के बगल में स्थित जलवाहिनी में छेद कर प्रतिदिन ५ लाख लीटर पानी की चोरी करने का मामला पूरे परिसर में चर्चा का विषय बना हुआ है। एक शिकायत के आधार पर मुंब्रा जल आपूर्ति विभाग के सहायक आयुक्त मनीष जोशी, कार्यकारी अभियंता धनंजय गोसावी के साथ मनपा के अन्य अधिकारियों ने छापेमारी की तो टैंकर माफियाओं की काली करतूतों का भंडाफोड़ हुआ। मनीष जोशी ने बताया कि दिवा के अगासन परिसर स्थित रेलवे फाटक के बगल से एक १२ इंच की जलवाहिनी है, जिसमें से लाखों लोगों को जल आपूर्ति की जाती है। पानी की भारी किल्लत के बावजूद टैंकर माफिया बड़े पैमाने पर लोगों को पानी बेच रहे हैं, इस तरह की लगातार शिकायतें मिल रही थीं। पूरी जानकारी मिलने के बाद मौके पर छापेमारी की गई तो जलवाहिनी में छेद कर पानी को एक कुएं में भरने और फिर कुएं से टैंकर में भरकर लोगों को बेचने का खुलासा हुआ। जलवाहिनी में कुल ९ छेद किए गए थे। प्रतिदिन ५ लाख लीटर पानी की चोरी किए जाने का अंदाजा लगाया गया है। दिवा प्रभाग समिति में उप अभियंता शशिकांत सालुंखे की शिकायत पर मुंब्रा पुलिस ने अगासन गांव निवासी अजित म्हात्रे तथा प्रतीक म्हात्रे के विरुद्ध सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने तथा चोरी करने का मामला दर्ज किया है। मामले की जांच कर रहे पुलिस उप निरीक्षक सरडे ने बताया कि मौके से सेक्शन पंप, मोटर तथा मीटर सहित अनेक समान जप्त किया गया है। दोनों आरोपी फरार हैं। पानी की चोरी कितने दिनों से की जा रही थी, इसका खुलासा आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही हो पाएगा।