" /> टलीरामों ने की वाइन शॉपों पर भारी भीड़ !

टलीरामों ने की वाइन शॉपों पर भारी भीड़ !

सोशल डिस्टेंसिंग की ऐसी तैसी!
पुलिस के लिए बना सिरदर्द !
कल से शराब की बिक्री शुरू हो गई है और तभी से शराब की दुकानों के बाहर ‘टलीरामों’ (शराबियों) की भारी भीड़ दिखाई दे रही है। मुंबई शहर में कल से लोग शराब की दुकानों के बाहर ऐसे भीड़ कर रहे हैं, जैसे कोई मुफ्त में अति महत्वपूर्ण सामान मिलता हो, जिसके लिए भीड़ उमड़ पड़ी हो। जिन्हें कंट्रोल करने के लिए पुलिस को एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ रहा है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार करीब डेढ़ माह बाद कल का दिन टलीरामों के लिए खुशखबरीवाला दिन था, जिसके चलते मुंबई के टलीराम सुबह से ही वाइन शॉपों की दुकानों के बाहर कतारबद्ध हो गए थे। कहीं-कहीं तो रात में ही टलीरामों ने पत्थर व पानी की बोतल कतार में खड़ी की थी। सुबह होते ही जिस वाइन शॉप की दुकान पर देखो टलीराम कतार में खड़े ही दिखाई दे रहे थे। कल वे खुलकर शराब की बोतलें व बीयर की बोतलें खरीदने के लिए सुबह से एड़ी चोटी का जोर लगा रहे थे। इतना ही नहीं कई वाइन शॉपों के बाहर टलीरामों के साथ-साथ औरतों व लड़कियों को भी कतार में खड़े देखा गया है।चेंबूर, कुर्ला, घाटकोपर, गोवंडी, सायन, भांडुप, मुलुंड जैसे इलाकों की दुकानों में एक-एक किलोमीटर तक की कतार देखने को मिल रही थी। रमाबाई कॉलोनी के मैजेस्टिक वाइन शॉप पर लगी कतार में दर्जनों महिलाओ के खड़े होकर शराब की बोतल खरीदते देख सुरक्षा में लगे पुलिसवाले भी हैरत में थे। इसी तरह चेंबूर के ब्रदर्स वाइन शॉप पर खड़े कुछ टलीरामों से जब इस संवाददाता ने बात की तो उनका कहना था कि करीब डेढ़ माह बाद मूल कीमत पर शराब की बोतल मिल रही है इसलिए यह लंबी कतार है अन्यथा हम लॉकडाउन में भी तो 200 की शराब 1,500 से 2,000 में भी खरीद चुके हैं। चेंबूर अमर महल की एक दुकान पर तो करीब एक किलोमीटर तक की लाइन थी, जिसे देख कुछ लोग फ़ोटो व वीडियो निकालने में व्यस्त थे।