मुख्यपृष्ठखबरें‘खून के रिश्ते नहीं बदलते!’ -पूजा हेगड़े

‘खून के रिश्ते नहीं बदलते!’ -पूजा हेगड़े

साउथ और हिंदी की फिल्मों में अपना परचम लहरानेवाली पूजा हेगड़े को आशुतोष गोवारिकर ने अपनी फिल्म ‘मोहनजोदारो’ में लॉन्च किया था। फिल्म इंडस्ट्री में १० वर्ष बिता चुकी पूजा की फिल्म ‘राधेश्याम’ ११ मार्च को रिलीज होने जा रही है। इस फिल्म में पूजा के साथ प्रभास भी हैं। पेश है, पूजा हेगड़े से पूजा सामंत की हुई बातचीत के प्रमुख अंश-

 आपके लिए फिल्म ‘राधेश्याम’ को साइन करने की मुख्य वजह क्या रही?
‘राधेश्याम’ एक हट के लव स्टोरी है। काफी समय बाद मुझे पीरियड लव स्टोरी करने का ऑफर मिला। यह प्रेम कहानी यूरोपियन दौर में घटती है। इस फंतासी फिल्म के निर्देशक राधाकृष्ण कुमार एक सक्षम निर्देशक हैं। फिल्म में मध्यवर्ती भूमिका प्रभास ने की है। ‘बाहुबली’ की अद्भुत सफलता के बाद प्रभास ग्लोबल स्टार बन गए हैं। ऐसे में कौन-सी अभिनेत्री प्रभास के साथ काम नहीं करना चाहेगी?
 शर्मीले प्रभास के साथ ऑन स्क्रीन रोमांस कैसे संभव हुआ?
अभिनेत्रियों के लिए रोमांस करना बहुत बड़ा मुश्किल काम होता है। प्रभास शर्मीले हैं लेकिन उतने भी नहीं। जब निर्देशक उन्हें निर्देश देते हैं, तो उन्हें सुनना ही पड़ता है। अपने करीबी दोस्तों से प्रभास बातचीत जरूर करते हैं लेकिन नए लोगों के साथ हम सभी तुरंत घुल-मिल नहीं सकते।
 एक साथ हिंदी और साउथ की फिल्मों को वैâसे मैनेज किया?
मेरे पास बहुत एफिशियंट स्टाफ है। फिर वो हेयर ड्रेसर हो, मेकअप आर्टिस्ट हो, स्टाइलिस्ट हो या फिर मैनेजर। कोई बड़ा काम अकेले मैनेज करना आसान नहीं है। मैं शुरू से अलग-अलग भाषाओं में फिल्में करना चाहती थी। मुंबई में रहती हूं लिहाजा हिंदी, इंग्लिश, तुलु, मराठी, गुजराती भाषा आने लगी। साउथ की फिल्म करने से वहां की भाषाएं मुझे आने लगीं। साउथ और हिंदी फिल्मों में एक साथ काम कर पाना मेरे स्टाफ के कारण ही संभव हुआ है।
 देशभर में हंगामा मचा चुकी फिल्म ‘पुष्पा’ तो आपने देखी होगी?
फिल्म ‘पुष्पा’ के रिलीज होते ही मैंने इस फिल्म को देखा। फिल्म का इम्पैक्ट देखकर ही इस बात का अंदाजा लग गया था कि फिल्म सुपरहिट होगी। मैंने फिल्म देखते ही अल्लू अर्जुन को बधाई दी। वैसे मैं उनके साथ दो फिल्में कर चुकी हूं। बहरहाल, ये फिल्म हिंदी में आने पर और हंगामा होगा।
 रीजनल फिल्म्स और हॉलीवुड फिल्मों में काम करने के बारे में आपकी क्या राय है?
साउथ की फिल्मों में मैं अपना मकाम बना चुकी हूं। मेरी दिली तमन्ना है कि मैं मराठी फिल्म करूं। इस बारे में हिंदी और मराठी के नामी स्टार रितेश देशमुख से बात कर मैंने अपनी यह मंशा उन्हें बताई। उम्मीद है मैं बहुत जल्द मराठी फिल्म कर सकूंगी।
 कैसा रहा अब तक का आपका सफर?
सफलता मिलने या सामाजिक ओहदा बढ़ने से खून के रिश्ते नहीं बदलते। मैं तो आज भी अपनी मां की बेटी हूं, डॉक्टर भाई की बहन हूं, पापा की लाड़ली हूं, जैसे जन्म से थी। बस, किस्मत ने करवट ली और मैं अभिनय में आ गई, जबकि मेरे परिवार में सभी का एज्युकेशनल बैक ग्राउंड है।
 ८ मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस है। आप किसे अपना आदर्श मानती हैं?
मेरी मां। उन्हीं के आदर्श और उसूल हमेशा मेरे सामने होंगे। मेरी मां डबल एमबीए और लॉ ग्रेजुएट हैं और उन्होंने कंप्यूटर फर्म को सफलतापूर्वक चलाया है। सुबह उठकर खुद किचन का चार्ज लेती हैं। बच्चों की सेहत और परिवार का पूरा ध्यान उन्होंने रखा। मेरे लिए मेरी मां दुनिया की आदर्श मां और ग्रेट सुपर वुमन हैं।
 आपकी आनेवाली फिल्म में आपने रणवीर सिंह के साथ काम किया है। रणवीर के बारे में आप क्या कहेंगी?
रणवीर बहुत एनर्जेटिक हैं। नई जनरेशन में वे सबसे ज्यादा फुर्तीले एक्टर होने के साथ ही बातूनी भी हैं। उनके साथ मैंने बहुत एन्जॉय किया।

अन्य समाचार