मुख्यपृष्ठखेलगोल्डन डक बनी राज

गोल्डन डक बनी राज

बांग्लादेश के खिलाफ `करो या मरो’ की स्थिति में हिंदुस्थानी टीम की वुमन विंग जब बल्लेबाजी करने उतरी तो कप्तान मिताली राज गोल्डन डक का शिकार हुर्र्इं। मिताली ने जहां टॉस जीतने का रिकॉर्ड बनाया, वहीं एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी उनके खाते में जुड़ गया। हैमिल्टन में सेडॉन पार्क में खेले गए मैच के दौरान विश्वकप में दूसरी बार गोल्डन डक का शिकार हुई। मिताली बल्लेबाजी पर जब उतरीं तो गेंद मिताली के बल्ले से लगकर कवर पर खड़ी फाहिमा के हाथों में चली गई और वे गोल्डन डक का शिकार हुर्इं। मिताली २०१७ विश्वकप में दक्षिण अप्रâीका के खिलाफ गोल्डन डक का शिकार हुई थीं। मिताली टूर्नामेंट के इतिहास में २ बार गोल्डन डक का शिकार होने वाली पहली कप्तान बन गई हैं। इसी के साथ ही वह पहली और एकमात्र हिंदुस्थानी कप्तान भी हैं, जो महिला विश्वकप में गोल्डन डक हुई हैं।

अन्य समाचार