मुख्यपृष्ठखबरेंठंड से होगा कैंसर का इलाज!... क्रायोब्लेशन मशीन करेगी ट्यूमर को फ्रीज

ठंड से होगा कैंसर का इलाज!… क्रायोब्लेशन मशीन करेगी ट्यूमर को फ्रीज

सरल होगा कैंसर का इलाज

सामना संवाददाता / मुंबई

मुंबई में ठंड से कैंसर का इलाज किया जाएगा। इसके लिए टाटा मेमोरियल अस्पताल में अत्याधुनिक क्रायोब्लेशन मशीन को लाया गया है, जिसका इस्तेमाल जल्द शुरू कर दिया जाएगा। यह मशीन कैंसर की कोशिकाओं को फ्रीज कर देता है। परिणामस्वरूप कोशिकाएं विकसित नहीं होने पाती हैं। अस्पताल के रेडिओ-निदान विभाग के प्रमुख डॉ. सुयश कुलकर्णी ने कहा कि मशीन से कैंसर मरीजों का इलाज और सरल हो जाएगा।

मरीजों के लिए उपयोगी है मशीन

डॉ. सुयश कुलकर्णी ने कहा कि क्रायोब्लेशन कैंसर मरीजों के लिए उपयोगी मशीन है। इसमें मरीज की ओपन सर्जरी भी शामिल है। उन्होंने कहा कि दो मिमी छेद के माध्यम से सुई डाला जाता है। इसके चलते ट्यूमर अंदर जम जाता है। यह सर्जरी माइनस 140 डिग्री सेल्सियस तापमान पर 25 से 30 मिनट में की जाती है।

शाम तक घर जा सकेंगे मरीज

उन्होंने कहा कि लोकल एनेस्थेशिया में इस प्रक्रिया को किया जा सकेगा। डे केयर में अर्थात यदि मरीज सुबह अस्पताल में आता है तो उसे शाम तक घर जा सकता है।

इन ट्यूमरों पर विधि का होता है इस्तेमाल

इस विधि का उपयोग हड्डियों, गुर्दे, मांसपेशियों और फेफड़ों के ट्यूमर के लिए किया जाता है। इसमें से 3 से 5 सेंटीमीटर तक के लंबे ट्यूमर को हटाया जा सकता है।

स्तन ट्यूमर पर अध्ययन

डॉ शुयस कुलकर्णी ने कहा कि यह निर्धारित करने के लिए अध्ययन चल रहा है कि क्या इस प्रक्रिया का उपयोग स्तन ट्यूमर के लिए किया जा सकता है। इस उपचार पद्धति का उपयोग करने के बाद मरीज को इम्यूनोथेरेपी दी जाती है, जिससे मरीज के तेजी से ठीक होने में मदद मिलती है।

कम दरों पर उपलब्ध होगी सुविधा

हिंदुस्थान और ऑस्ट्रेलिया पिछले 30 साल से स्वास्थ्य पर काम कर रहे हैं। क्रायोब्लेशन एक ऐसी तकनीक है जिसे इजराइल ने कैंसर के इलाज के लिए विकसित किया है। मरीजों के लिए यह सुविधा कम दरों पर उपलब्ध होगी। फिलहाल टाटा अस्पताल में आई मशीन एक करोड़ रुपये की है।

अन्य समाचार