मुख्यपृष्ठनए समाचारफिर आई कोविड काल की याद, राजभवन के सामने महिला ने दिया...

फिर आई कोविड काल की याद, राजभवन के सामने महिला ने दिया बच्चे को जन्म

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ
यूपी में बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खोलनेवाला एक और मामला सामने आया है। रविवार को राजधानी लखनऊ में राजभवन के पास घटी इस घटना में वक्त पर एंबुलेंस नहीं मिलने के कारण एक गर्भवती महिला की प्रसूति राजभवन के सामने हो गई। इससे भी दर्दनाक ये रहा कि समय पर इलाज नहीं मिलने से महिला के नवजात बच्चे की मौत भी हो गई। इस घटना से कोविड काल गंगा में बहते शवों वाली डरावनी यादें ताजी हो गईं।
बताया जा रहा है कि एक गर्भवती महिला रिक्शे से अस्पताल जा रही थी। उसी दौरान उसे प्रसव पीड़ा होने लगी। एंबुलेंस बुलाने के लिए फोन करने के बाद एंबुलेंस १ घंटे तक नहीं पहुंची। महिला की प्रसव पीड़ा तीव्र होने पर वहां मौजूद महिलाएं चादर से घेरकर राजभवन के गेट नंबर-१३ पर ही डिलीवरी कराने को मजबूर हुईं। खबर तेजी से सोशल मीडिया में वायरल हुई तो सरकारी अमले की नींद टूटी और करीब १ घंटे बाद पुलिसकर्मी एंबुलेंस के साथ मौके पर पहुंचे। आनन-फानन में जच्चा-बच्चा को हजरतगंज स्थित झलकारी बाई अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने नवजात को मृत घोषित कर दिया।

अन्य समाचार

लालमलाल!