मुख्यपृष्ठखेलबिहार के फोगाट

बिहार के फोगाट

इसे कहते हैं प्रेरित करना और प्रेरित होना। महावीर फोगाट, फोगाट बहनों के कुश्ती में विश्व प्रसिद्ध हो जाने पर चर्चा में आए थे, जिन्होंने तैयार किया था इन बच्चियों को। उन पर दंगल नामक फिल्म भी बनी थी। उसी से प्रेरित होकर अब बिहार में भी ऐसे ही शख्स की चर्चा है, जिन्होंने तैयार किया है अपने बच्चों को पहलवानी में। महावीर सिंह फोगाट ने सामाजिक बंधनों को तोड़ते हुए अपनी बेटियों को अखाड़े में उतारा और उन्‍होंने इतिहास रच दिया। बिहार के पूर्णिया जिले में भी उन्‍हीं की तरह एक पिता ने बेटी और भांजी का पहलवानी की तरफ रुझान देखा। इसके बाद क्‍या था? वो भी अपनी लाडलियों के लिए महावीर सिंह फोगाट बन गए। सबसे पहले उन्‍होंने खुद से ही दोनों को कुश्‍ती का गुर सिखाना शुरू किया। इसके बाद उन्‍होंने इनके लिए अखाड़ा बनवाया और कुश्‍ती का कोच भी रखवा दिया। दोनों बेटियों ने राज्‍यस्‍तरीय चैंपियनशिप के विभिन्‍न भार वर्ग में सिल्‍वर मेडल जीतकर अपने पिता को रिटर्न गिफ्ट दिया है।

 

अन्य समाचार