मुख्यपृष्ठसमाचारविलय की तैयारी में केंद्र सरकार...बीबीएनएल का बीएसएनएल में मर्जर!

विलय की तैयारी में केंद्र सरकार…बीबीएनएल का बीएसएनएल में मर्जर!

• बीएसएनएल के चेयरमैन ने दी जानकारी
सामना संवाददाता / नई दिल्ली । केंद्र में भाजपा की सरकार बनने के बाद से हिंदुस्थान की सरकारी कंपनियों का घाटा और बेचा जाना लगातार जारी है। केंद्र सरकार की गलत नीतियों की वजह से कई बैंकों का विलय हुआ। साथ ही विमानन सेवा की सरकारी कंपनी एयर इंडिया बेच दी गई। अब ये केंद्र सरकार भारत ब्रॉडबैंड निगम लिमिटेड (बीबीएनएल) की घाटे में चल रही सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) में विलय करने की तैयारी कर रही है। बीएसएनएल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक पीके पुरवार ने यह जानकारी देते हुए कहा कि इस मर्जर को इसी महीने किया जाएगा।उन्होंने हाल ही में अखिल भारती स्नातक इंजीनियर एवं दूरसंचार अधिकारी संघ (एआईजीटीओए) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि सरकार बीएसएनएल को बदलाव का मौका दे रही है। पुरवार ने बीते दिनों एआईजीटीओए के अखिल भारतीय सम्मेलन में कहा कि सरकार ने बीबीएनएल का बीएसएनएल में विलय करने का नीतिगत निर्णय लिया है। इसका मतलब है कि अखिल भारतीय स्तर पर बीबीएनएल का सारा काम बीएसएनएल को मिलनेवाला है। केंद्रीय दूरसंचार मंत्री के साथ अपनी बैठक का जिक्र करते हुए पुरवार ने कहा कि इस संबंध में उनकी एक घंटे तक बैठक हुई। बीएसएनएल के पास पहले से ही ६.८ लाख किलोमीटर से अधिक ऑप्टिकल फाइबर केबल (ओएफसी) का नेटवर्क है। गौरतलब है कि फरवरी में पेश किए बजट में सरकार ने एलान किया है कि बीएसएनएल में ४४,७२०

अन्य समाचार