मुख्यपृष्ठसमाचारसतीश महाना होंगे विधानसभा अध्यक्ष, संजय लाठर विधान परिषद में नेता विरोधी...

सतीश महाना होंगे विधानसभा अध्यक्ष, संजय लाठर विधान परिषद में नेता विरोधी दल होंगे

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ। यूपी में योगी सरकार की वापसी के साथ ही सतीश महाना का विधानसभा अध्यक्ष भी बनना तय हो गया है। भाजपा के वरिष्ठ विधायक सतीश महाना ने सोमवार को विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया। उन्होंने प्रमुख सचिव विधानसभा प्रदीप दुबे को अपना नामांकन पत्र सौंपा। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और बृजेश पाठक समेत तमाम नेता मौजूद थे। इसके साथ ही विधान परिषद में नेता विरोधी दल भी तय हो गया। सपा मुखिया व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव के करीबी नेता संजय लाठर विधान परिषद में नेता विरोधी दल होंगे। सदस्य संजय लाठर जाट समाज से आते हैं।

विधानसभा अध्यक्ष के लिए समाजवादी पार्टी की ओर से कोई भी उम्मीदवार नहीं उतारा गया। इसका पैâसला पार्टी ने पहले ही कर लिया था। लिहाजा यूपी की १८वीं विधानसभा के लिए सतीश महाना का निर्विरोध अध्यक्ष बनना तय हो गया है। मंगलवार दोपहर ३ बजे सतीश महाना के विधानसभा अध्यक्ष निर्वाचित होने का एलान किया जाएगा। विधानसभा अध्यक्ष के निर्वाचन के लिए नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने भी सतीश महाना को समर्थन दिया है। इसके साथ ही कांग्रेस की नेता विधानमंडल दल आराधना मिश्रा मोना ने भी सतीश महाना का नाम वरिष्ठ सदस्य के रूप में प्रस्तावित किया। जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के अध्यक्ष और कुंडा से विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया उनके प्रस्तावक बने।

यूपी सरकार २.० के शपथ ग्रहण के दौरान मंत्रियों की लिस्ट में सतीश महाना का नाम नहीं था। उसके बाद से ही कयास लगाए जा रहे थे कि उन्हें विधानसभा अध्यक्ष बनाया जाएगा। सतीश महाना ८ बार से विधायक हैं। वह ५ बार कानपुर कैंट से विधायक रह चुके हैं। कानपुर की महाराजपुर विधानसभा सीट से २०१२ से वह लगातार विधायक हैं।

अन्य समाचार