मुख्यपृष्ठखबरें सातवें चरण में थमा प्रचार, योगी सरकार के सात मंत्रियों की साख...

 सातवें चरण में थमा प्रचार, योगी सरकार के सात मंत्रियों की साख दांव पर

• पीएम मोदी के क्षेत्र वाराणसी सहित पूर्वांचल के नौ जिलों की ५४ सीटों पर ७ मार्च को पड़ेगा वोट
विक्रम सिंह, सुल्तानपुर
यूपी में आखिरी चरण के मतदान के लिए नौ जिलों की ५४ सीटों पर शाम छह बजे प्रचार थम गया। इस चरण में योगी सरकार के सात मंत्री भी मैदान में हैं। जबकि एक उम्मीदवार ऐसे भी हैं जो चुनाव घोषणा के बाद भाजपा छोड़ अब सपा के बैनर पर समर में उतरे हैं।
सात चरणों में हो रहे यूपी चुनाव के आखिरी चरण में वाराणसी समेत पूर्वांचल के नौ जिलों की ५४ सीटों पर सत्ताधारी भाजपा व प्रमुख विपक्षी दल सपा, बसपा व कांग्रेस के प्रत्याशी आमने-सामने हैं। जिसमें योगी सरकार के छह मंत्रियों के भाग्य का भी फैसला होगा।
यूपी के रण का सातवां चरण भी कम रोमांचक नहीं है। जिसमें पांच मंत्रियों में एक कैबिनेट, दो राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और दो राज्य मंत्री स्तर के हैं। पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी की विभिन्न सीटों से तीन मौजूदा मंत्री फिर चुनाव मैदान में हैं। इनमें पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनिल राजभर शिवपुर सीट से, स्टांप एवं निबंधन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रवींद्र जायसवाल वाराणसी उत्तर, पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नीलकंठ तिवारी वाराणसी दक्षिण से मैदान में हैं। जबकि आवास एवं शहरी नियोजन राज्यमंत्री गिरीश यादव पड़ोसी जौनपुर व ऊर्जा राज्य मंत्री रमाशंकर सिंह पटेल मीरजापुर की मडि़हान सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। गाजीपुर के गाजीपुर सदर विधानसभा से  मंत्री संगीता बलवंत तथा सोनभद्र के ओबरा सीट से मंत्री संजीव गोंड किस्मत आजमा रहे हैं। ऐन चुनाव के वक़्त भाजपा से छलांग लगाकर सपा में आए निवर्तमान वन एवं पर्यावरण मंत्री दारा सिंह चौहान मऊ की घोसी सीट से सपा प्रत्याशी हैं।
इनके साथ ही नौवीं बार विधान सभा पहुंचने की तैयारी कर रहे दुर्गा प्रसाद यादव आजमगढ़ सीट से सपा प्रत्याशी हैं। पांचवीं बार विधायक बनने के लिए बतौर सपा प्रत्याशी आजमगढ़ की निजामाबाद सीट से आलमबदी आजमी, जौनपुर की शाहगंज सीट से शैलेंद्र यादव ललई और भदोही की ज्ञानपुर सीट से प्रगतिशील मानव समाज पार्टी के उम्मीदवार विजय मिश्र मैदान में हैं। सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर गाजीपुर की जहूराबाद सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। पूर्व सांसद तूफानी सरोज सपा उम्मीदवार के रूप में जौनपुर की केराकत सीट से ताल ठोक रहे हैं।

बाहुबली धनंजय व मुख्तार के बेटे अब्बास भी हैं मैदान में
‘बाहुबली’ कहे जाने वाले पूर्व सांसद धनंजय सिंह को जदयू ने जौनपुर की मल्हनी सीट से उतारा है। वहीं माफिया मुख्तार अंसारी के पुत्र अब्बास अपने पिता की मऊ सीट पर किस्मत आजमा रहे हैं। देखना है कि दस मार्च को वोटर इनके साथ कैसा सुलूक करते हैं।

अन्य समाचार