मुख्यपृष्ठनए समाचार२ हजार बनेंगे मतदान केंद्र राज्य में नए वोटर बढ़े! ...१०.३२ लाख...

२ हजार बनेंगे मतदान केंद्र राज्य में नए वोटर बढ़े! …१०.३२ लाख नए आवेदन, मतदाताओं की स्क्रूटनी

• ६.४ लाख आवेदन पात्र, ७० हजार आवेदन अपात्र
सामना संवाददाता / मुंबई
महाराष्ट्र राज्य में बढ़ते मतदाताओं की संख्या को देखते हुए राज्य में अब आगामी लोकसभा चुनाव के लिए २ हजार नए मतदान केंद्र बनाए जाएंगे। इस वर्ष राज्य में १०.३२ लाख युवाओं ने मतदाता सूची में अपना नाम शामिल करने के लिए आवेदन किया है। फिलहाल, राज्य में ९६,८६६ मतदाता केंद्र हैं। अब यह संख्या बढ़कर ९८,८६६ हो जाएगी।
राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि राज्य चुनाव आयोग को मतदाता पंजीकरण के लिए १०.३२ लाख आवेदन प्राप्त हुआ है। १०.३ लाख नए मतदाता आवेदनों में से लगभग ६.५ लाख को मंजूरी दी गई है। अधिकारियों ने कहा कि आवेदन प्रक्रिया की स्क्रूटनी तेज कर दी गई है। उन्होंने कहा कि डेटा अधूरा होने के कारण ६०,८०९ आवेदन खारिज कर दिए गए हैं। अब भी ३.२३ लाख आवेदन आकलन करने की प्रक्रिया में हैं। ऑनलाइन आवेदन की सुविधा के अलावा घर-घर जाकर पंजीकरण अभियान मध्यम से यह संख्या बढ़ेगी।
एक अधिकारी के अनुसार, मतदाताओं की अंतिम सूची का आकलन करने के बाद अधिक मतदान केंद्र या सहायक मतदान केंद्र स्थापित करने पर निर्णय लिया जाएगा। राज्य चुनाव आयोग को नए पंजीकरण, मतदाताओं का नाम निकालने या पता परिवर्तन के लिए कुल २३.०४ लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें से १३.५ लाख को मंजूरी दी गई है और १.२२ लाख को खारिज कर दिया गया है।
वर्तमान में ९.०७ करोड़ है संख्या
वर्तमान में राज्य में ९६,८६६ मतदान केंद्र हैं और नए मतदाताओं के पंजीकरण के चल रहे अभियान के साथ लगभग २,००० मतदान केंद्र जोड़े जाएंगे। भारत निर्वाचन आयोग के दिशाा-fनर्देशों के अनुसार, प्रत्येक मतदान केंद्र में शहरी क्षेत्रों के लिए अधिकतम १,५०० मतदाता और ग्रामीण क्षेत्रों के लिए १,२०० मतदाता होने चाहिए। चुनाव आयोग जोर-शोर में मतदाता सूची व्यवस्थित करने में जुटी है। लगभग ७.८२ करोड़ मतदाताओं के विवरण सत्यापित किए जा चुके हैं।

अन्य समाचार