मुख्यपृष्ठसमाचार११ शेरों को किया गया एयरलिफ्ट! रूस के हमलों से जूझ रहा...

११ शेरों को किया गया एयरलिफ्ट! रूस के हमलों से जूझ रहा यूक्रेन

  • अब तक का सबसे बड़ा किया गया रेस्क्यू

रूस-यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध से अत्यधिक नुकसान हो रहा है और लाखों लोगों तक भोजन और पानी की कोई पहुंच नहीं है। युद्ध का असर सिर्फ इंसानों पर ही नहीं, बल्कि जानवरों पर भी पड़ रहा है। यूक्रेन में शेरों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए वॉरियर्स ऑफ वाइल्ड लाइफ ने ११ बड़ी बिल्लियों को बचाया और उन्हें अमेरिका और दक्षिण अफ्रीका के अभयारण्यों में स्थानांतरित कर दिया। एक रिपोर्ट के अनुसार रोमानिया में अस्थायी आश्रयों में सड़क मार्ग से ले जाने के बाद बड़ी बिल्लियां बोइंग ड्रीमलाइनर की पकड़ में आ गईं , जहां उन्होंने उड़ान के लिए कई महीने बिताए।
युद्ध क्षेत्र में एक जटिल ऑपरेशन
एक जटिल ऑपरेशन में दो पशु बचाव संगठनों द्वारा बचाए किए जाने के बाद सात शेरों और दो शावकों को कोलोराडो में जंगली पशु अभयारण्य में ले जाया गया। रिपोर्ट में कहा गया है कि अन्य दो शेरों को दो ब्रिटिश लोगों ने बचाया था और उन्हें दक्षिण अफ्रीका के एक हरे-भरे रिजर्व में ले जाया जाएगा। वॉरियर्स ऑफ वाइल्ड लाइफ के संस्थापक और निदेशक लियोनेल डी. लैंग ने बताया कि शेरों को दोहा भेजा जाएगा और वहां से फिर बिल्लियों को दो खेपों में विभाजित किया जाएगा, जिसमें से एक संयुक्त राज्य अमेरिका में जंगली पशु अभयारण्य में जाएगी और दूसरी दक्षिण अफ्रीका में सिंबोंगा के अभयारण्य में भेजी जाएगी।
कभी नहीं हुआ इतने शेरों का बचाव
उन्होंने कहा कि एक युद्ध क्षेत्र से इतने सारे शेरों का एक साथ बचाव कभी नहीं हुआ और हम बस इतना महसूस कर रहे हैं कि हम इस मुकाम पर पहुंच गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक यात्रा से पहले शेरों को बहुत ज्यादा बहकाया जाएगा और उन्हें टोकरे में रखा जाएगा। लैंग ने कहा कि एक युद्ध क्षेत्र से इतने सारे शेरों का एक भी बचाव कभी नहीं हुआ है। हम शेरों की यात्रा के लिए सभी सरकारों की बहुत सराहना करते हैं। यह आश्चर्यजनक है और ये सब चार महीने में पूरा कर लिया है। यूक्रेन में शेरों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए वॉरियर्स ऑफ वाइल्ड लाइफ ने बचाया।

अन्य समाचार