मुख्यपृष्ठनए समाचारवाराणसी में आयोजित 4 दिवसीय Y-20 शिखर सम्मेलन संपन्न

वाराणसी में आयोजित 4 दिवसीय Y-20 शिखर सम्मेलन संपन्न

उमेश गुप्ता/वाराणसी

वाराणसी में आयोजित 4 दिवसीय शिखर सम्मेलन संपन्न हुआ। वाराणसी के रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में पिछले 4 दिनों तक भारत की अध्यक्षता में G-20 के समग्र ढांचे के तहत Y-20 ने दुनिया के लिए नए मील के पत्थर स्थापित किए हैं। शिखर सम्मेलन के दौरान Y-20 विज्ञप्ति पर चर्चा और बातचीत की गई। उसके बाद वैश्विक सहमति से इस पर सफलतापूर्वक हस्ताक्षर किए गए हैं। इन चार दिनों में मुख्य रूप से 5 महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा किया गया।
गौरतलब है कि G-20 सम्मलेन के तहत Y-20 इंडिया एंगेजमेंट ग्रुप और भारत सरकार के युवा मामले विभाग, युवा मामले और खेल मंत्रालय को यूथ-20 (Y-20) शिखर सम्मेलन-2023 आयोजित करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। नई दिल्ली में Y-20 कर्टेन रेजर, गुवाहाटी में आरंभिक बैठक, लेह, लद्दाख में Y-20 प्री-समिट, देश भर के विभिन्न विश्वविद्यालयों में Y-20 परामर्श और भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) द्वारा 50 विचार-मंथन सत्र सहित कई कार्यक्रम आयोजित किए गए।
वाराणसी के रुद्राक्ष इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर (RICCC) में रविवार को एक पूर्ण सत्र आयोजित किया गया। Y-20 2023 विज्ञप्ति को ट्रोइका देशों द्वारा जारी किया गया था, जिसमें अध्यक्ष Y-20 भारत, इंडोनेशिया आयोजन समिति के प्रतिनिधि और ब्राजील आयोजन समिति के प्रतिनिधि शामिल थे। ध्वज को आधिकारिक तौर पर Y-20 इंडिया चेयर द्वारा ब्राजीलियाई प्रतिनिधिमंडल प्रमुख को सौंप दिया गया। Y-20 विज्ञप्ति के रूप में शिखर सम्मेलन के नतीजे पर प्रतिनिधिमंडल के प्रमुखों द्वारा हस्ताक्षर किए गए, जो पिछले कुछ महीनों के दौरान हुई विभिन्न चर्चाओं के निष्कर्ष को चिह्नित करता है। यह Y-20 के पांच पहचाने गए विषयों में सामूहिक आम दृष्टिकोण का एक प्रमाण है, जो यह सुनिश्चित करेगा कि युवाओं की आवाज़ वैश्विक मंच पर उच्चतम स्तर के निर्णय निर्माताओं द्वारा सुनी जाए।
4 दिवसीय शिखर सम्मेलन के दौरान, प्रतिनिधियों ने नदी यात्रा के दौरान सारनाथ, प्रसिद्ध काशी विश्वनाथ मंदिर और गंगा घाट का दौरा किया।

अन्य समाचार

लालमलाल!