मुख्यपृष्ठखबरेंशेयर बाजार में कोहराम,  एक दिन में डूबे निवेशकों को 5 लाख...

शेयर बाजार में कोहराम,  एक दिन में डूबे निवेशकों को 5 लाख करोड़ रुपए 

विश्व आर्थिक मंदी की आशंकाओं के बीच इक्विटी बाजारों में गिरावट के कारण से शुक्रवार को निवेशकों का 4.83 ट्रिलियन रुपए का निवेश डूब गया। बीएसई सेंसेक्स आज 1,021 अंक गिरावट के साथ 58,099 पर बंद हुआ। यह गिरावट1.73 प्रतिशत की है। निफ्टी 50 के लिए भी आज भारी गिरावट का दिन रहा। यह 17,350 के स्तर से 302 अंक नीचे 17,327 पर बंद हुई। निफ्टी 50 में भी 1.72 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। इस गिरावट के बाद से बाजार में आगे भी गिरावट की आशंका बनी हुई है।

अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेड रिजर्व के मुखिया Jerome Powell के ब्याज दर बढ़ाने के एलान और फिर डॉलर के मुकाबले रुपए में एतिहासिक गिरावट के चलते भारतीय शेयर बाजार में कोहराम मचा है। तो दुनियाभर के शेयर बाजारों में गिरावट चाहे एशियाई हो या यूरोपीय या फिर अमेरिकी सभी जगह गिरावट है और इसका असर भी भारतीय बाजारों पर नजर आ रहे हैं जिसका खामियाजा शेयर बाजार के निवेशकों को उठाना पड़ा है। हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन भारतीय बाजार के निवेशकों को 5 लाख करोड़ रुपए की चपत लग गई।

5 लाख करोड़ की चपत
गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार जब बंद हुए तब मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का मार्केट कैपिटलाइजेशन 281.70 लाख करोड़ रुपए करीब था। जो शुक्रवार की गिरावट के बाद घटकर 276.65 लाख करोड़ रुपए रह गया है। फेड रिजर्व ने ब्याज दरें तो बढ़ाई पर भविष्य में और भी बढ़ाने के संकेत दिए हैं जिसके चलते विदेशी निवेशक बाजार में बिकवाली कर रहे हैं।

आरबीआई बढ़ा सकता है रेपो रेट
28-30 सितंबर आरबीआई की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी की बैठक होने वाली है। खुदरा महंगाई दर अगस्त महीने में फिर से 7 फीसदी के करीब जा पहुंचा है। जिसके बाद फिर से आरबीआई द्वारा रेपो रेट बढ़ाने के कयास लगाए जा रहे हैं। माना जा रहा है कि 30 सितंबर को आरबीआई 35 बेसिस से लेकर 50 बेसिस प्वाइंट तक रेपो रेट बढ़ाने का एलान कर सकता है।

अन्य समाचार