मुख्यपृष्ठनए समाचारपिछले ९ महीने में ७ ने गंवाई जान ... रील का नशा...

पिछले ९ महीने में ७ ने गंवाई जान … रील का नशा रियल में डरा रहा है!

आजकल हिंदुस्थान में इंस्टाग्राम पर रील्स बनाने का क्रेज खूब देखने को मिल रहा है। व्यूज बढ़ाने के चक्कर में युवा अपनी जान की बाजी तक लगा रहे हैं। लेकिन रील्स बनाने का यह क्रेज अब रीयल लाइफ में उन्हें और उनके परिवार को डरा रहा है। यही वजह है कि रील्स बनाने का नशा जानलेवा साबित हो रहा है। इंस्टाग्राम रील्स बनाने के चक्कर में युवक आए दिन हादसों को न्योता दे रहे हैं। पिछले कुछ वर्षों में रील्स बना रहे लोगों के साथ कई बड़े हादसे हो चुके हैं। कई पुरुष और महिलाओं की जान तक जा चुकी है। इसके बाद भी युवाओं द्वारा लगातार लापरवाही बरतने के मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच उत्तर प्रदेश के बाराबंकी का एक खौफनाक वीडियो सामने आया है, जिसमें एक युवक को रील्स बनाना बड़ा भारी पड़ गया। इस चक्कर में उस युवक को अपनी जान तक गंवानी पड़ गई। एक आंकड़े की मानें तो २०२३ में जनवरी से लेकर सितंबर तक यानी इन नौ महीनों के भीतर तकरीबन ७ लोगों की जानें जा चुकी हैं।
गौरतलब है कि रेलवे ट्रैक और प्लेटफॉर्म के किनारे जाकर फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी नहीं करने का निर्देश बार-बार दिया जाता है। इसके बावजूद भी कुछ लोग रील बनाने और सोशल मीडिया पर वायरल होने के चक्कर में ऐसी हरकतें कर बैठते हैं। कई बार इसमें बड़ा नुकसान भी हो जाता है।
बता दें कि दो सप्ताह पहले ऐसा ही एक मामला हल्द्वानी से सामने आया था, जहां एक महिला को रील बनाने का शौक उसकी पैâमिली को शॉक दे गया। रील बनाने के चक्कर में जैसे ही वो पानी में उतरी पानी का तेज बहाव उसे बहा ले गया और उसे अपनी जान गंवानी पड़ी। जून में खगड़िया से आया मामला तो बेहद चौंकानेवाला था। यहां एक महिला को रील्स बनाने का काफी शौक था। नीतू देवी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती थीं और रील्स बनाने का काफी शौक था। एक दिन नीतू नीचे ईंट रखकर ऊपर रस्सी बांधकर फांसी का फंदा बनाकर फांसी लगने का रील बना रही थीं। इसी दौरान नीचे र्इंट पर खड़े होकर रील बनाते समय ईंट पैर के नीचे से हट जाने के कारण वह रस्सी के फंदे पर झूल गई। इससे उसकी मौत हो गई थी।

दिल दहला देने वाला हादसा
बाराबंकी के ८वीं क्लास में पढ़ने वाले छात्र रेलवे ट्रैक से सटकर रील बना रहा था और तभी तेज रफ्तार से आती ट्रेन से टकराकर उसकी मौत हो गई। मृतक की पहचान जहांगीराबाद थाना क्षेत्र के टेरा दौलतपुर गांव निवासी मुन्ना का पुत्र फरमान (१४) के तौर पर हुई है। इस घटना के बाद से परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। आसपास के लोग भी घटना के बाद से परेशान हैं। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, फरमान अपने दो दोस्तों के साथ अक्सर मोबाइल से रील बनाता था। रेलवे ट्रैक से सटकर रील बनाने के दौरान ट्रेन आती देखकर दोस्तों और आसपास मौजूद दूसरे लोगों ने आवाज भी लगाई थी, लेकिन उसने ध्यान नहीं दिया और ट्रेन से कटकर उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मोबाइल में उसकी मौत का वीडियो भी बन गया।

रेल में रील्स बनाया तो हो सकती है जेल!
ट्रेन या प्लेटफॉर्म पर रील्स, सेल्फी, वीडियो रिकॉर्ड करना आजकल आम बात हो गई है। खासकर यूट्यूबर्स का फेवरेट अड्डा बना हुआ है। लेकिन क्या आपको पता है कि ऐसा करना बिना टिकट ट्रेन में सफर करना जितना ही बड़ा अपराध है। नियम के मुताबिक, जुर्माना और जेल दोनों का प्रावधान है। ट्रेन में सफर के दौरान या प्लेटफार्म के किनारे जान जोखिम में डालकर सेल्फी, रील्स या वीडियो रिकॉर्ड करना रेलवे अधिनियम १९८९ की धारा १४५ और १४७ का दोषी माना जाता है, जिसके तहत कम से कम एक हजार रुपए का जुर्माना और ६ महीने की जेल का प्रावधान है।

अन्य समाचार