मुख्यपृष्ठटॉप समाचारआड़े आओगे तो...! आज गरजेगी उद्धव ठाकरे की तोप !

आड़े आओगे तो…! आज गरजेगी उद्धव ठाकरे की तोप !

बीकेसी मैदान पर भीड़ का कीर्तिमान बनानेवाली महासभा
आज शाम ठीक ७ बजे

सामना संवाददाता / मुंबई
आड़े आनेवालों को मुंहतोड़ जवाब दो। हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे द्वारा शिवसैनिकों को दी गई यह सीख है। शिवसैनिकों ने समय-समय पर अपने कृत्य से यह दुनिया को दिखाया है। आज बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स (बीकेसी) मैदान पर आयोजित होनेवाली शिवसेना की महासभा में भी इसका साक्षात्कार होगा। शिवसेनापक्षप्रमुख व राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की तोप इस सभा में गरजेगी। नए व नकली हिंदुत्ववादियों का मुखौटा उतारा जानेवाला है। सभा की जोरदार तैयारी एवं महाराष्ट्र सहित देशभर से मुंबई की ओर आनेवाले शिवसैनिकों की संख्या को देखें तो यह सभा निश्चित तौर पर भीड़ का कीर्तिमान तोड़नेवाली साबित होगी। उद्धव ठाकरे का शिवबाण किसका-किसका बेध करेगा, इसे लेकर सभी के मन में जबरदस्त उत्सुकता है इसलिए प्रसार माध्यमों के साथ-साथ सभी राजनीतिक दलों एवं देश के तमाम नागरिकों का ध्यान इस सभा पर लगा है।
पिछले कुछ दिनों में विरोधियों ने शिवसेना के खिलाफ साजिशें रचीं। धार्मिक मुद्दों की आड़ में शिवसेना और उद्धव ठाकरे को बदनाम करने का प्रयास किया। उन सभी का बुर्का उद्धव ठाकरे इस महासभा में फाड़ देंगे। विरोधियों का वास्तविक चेहरा दुनिया के सामने लानेवाले हैं। उनकी योजना, उनकी साजिशों का पर्दाफाश करनेवाले हैं। इसलिए मीडिया के साथ-साथ आम जनता में भी इस सभा को लेकर जबरदस्त उत्सुकता है। हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे द्वारा स्थापित की गई शिवसेना का हिंदुत्व सोने जैसा तेजस्वी है। उसके लिए किसी तरह का प्रमाण देने की आवश्यकता नहीं है। फिर भी कुछ लोगों ने शिवसेना पर हिंदुत्व छोड़ने की टिप्पणी की। रंग बदलकर शरीर पर भगवा ओढ़ा। झंडा भगवा किया। उद्धव ठाकरे की महासभा उन नए और नकली हिंदुत्ववादियों का पर्दाफाश करनेवाली साबित होगी। शिवसेना के नेता, उपनेता, पदाधिकारी, शिवसैनिक, युवासेना के कार्यकर्ता आदि इस सभा में उपस्थित रहेंगे।
हनुमान चालीसा के नाम पर भी स्टंटबाजी करके कुछ लोगों ने शिवसेना पर आरोप लगाए। उद्धव ठाकरे की आलोचना की। लाखों शिवसैनिकों के लिए पूजनीय माने जानेवाले मातोश्री के बाहर आकर हनुमान चालीसा पढ़ने की चेतावनी दी। शिवसैनिकों ने उनका इंतजाम किया। परंतु फर्जी हिंदुत्ववादियों को बुलानेवाले मालिकों की खबर उद्धव ठाकरे इस सभा में लेनेवाले हैं। उद्धव ठाकरे क्या बोलनेवाले हैं, इस पर विरोधी खेमे में खलबली मची हुई है।
उद्धव ठाकरे और उनके नेतृत्व में महाविकास आघाड़ी सरकार इस तरह से दोनों को ही निशाना बनाने का प्रयास विरोधियों की ओर से लगातार किया जा रहा है। सरकार को मुश्किल में डालने के लिए बेहद निचले स्तर की राजनीति की जा रही है। एक ही समय में कई मुद्दों पर सरकार को मुश्किलों में घेरने की साजिश की जा रही है। उन सभी को कल की महासभा में उद्धव ठाकरे तीखा जवाब देंगे।

शिवसैनिकों की भीड़ मुंबई की ओर

शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे की महासभा के लिए राज्य ही नहीं, देश के कोने-कोने से हजारों शिवसैनिकों की भीड़ मुंबई की ओर रवाना हो गई है। राज्य के विभिन्न जिलों से भी शिवसैनिक रेलवे, एसटी, निजी वाहनों से शुक्रवार को ही मुंबई पहुंचने लगे हैं। शिवसैनिकों के साथ-साथ ही महिला आघाड़ी की कार्यकर्ता, युवा सैनिक और शिवसेना से संलग्न विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ता भी बड़ी संख्या में महासभा के लिए पहुंच रहे हैं।

बीकेसी में कड़े इंतजाम

बीकेसी परिसर में इस सभा के लिए पुलिस ने कड़े इंतजाम कर रखे हैं। वाहनों के लिए पार्किंग की व्यवस्था करने के लिए ट्रैफिक पुलिस कड़ी मेहनत कर रही है। भारी भीड़ होने की संभावना को देखते हुए एहतियात के तौर पर राज्य रिजर्व पुलिस बल के जवानों को भी तैनात किया गया है। सादे वेश में पुलिस भी हर हरकत पर पैनी नजर रखेगी।

टीजर से होर्डिंग्स… सर्वत्र शिवसेना ही

शिवसेना की यह महासभा सोशल मीडिया में भी छाई हुई है। व्हॉट्स ऐप, फेसबुक, ट्विटर पर महासभा के टीजर तेजी से वायरल हो रहे हैं। ‘हिंदुत्व की हुंकार सुनने के लिए आना ही चाहिए’, ऐसा आह्वान उसमें किया गया है। महासभा में आने के लिए आह्वान करनेवाली होर्डिंग्स नुक्कड़ों पर भी प्रदर्शित हो रही हैं। गलियों में बैनर्स लगे हुए हैं।

अन्य समाचार