मुख्यपृष्ठनए समाचारजहरीली टॉफी खाने से ४ बच्चों की मौत... रंजिश में सूनी हुई...

जहरीली टॉफी खाने से ४ बच्चों की मौत… रंजिश में सूनी हुई गोद!

मनोज श्रीवास्तव / कुशीनगर ।  कुशीनगर के कसया थाना इलाके के कुड़वा उर्फ दिलीप नगर गांव के सिंसई लठाईत टोला में कल सुबह तकरीबन सात बजे टॉफी खाने से चार मासूम बच्चों की मौत हो गई। टॉफी के अलावा नौ रुपए गठरी में मिले हैं। टॉफी गीली थी। टॉफी में किसी जहरीले पदार्थ के मिलावट की आशंका है। बच्चों की मौत की जानकारी मिलते ही परिजन बेसुध हो गए। उनका रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं ग्रामीणों में कोई रंजिश तो कोई तंत्र-मंत्र का चक्कर बता रहा है। एक ही परिवार के ४ बच्चों की मौत से मां की गोद सूनी हो गई। कहा जा रहा है कि बच्चों को घर के बाहर कुछ टॉफियां पड़ी मिली थीं। इन्हीं टॉफियों को खाने से बच्चों की मौत हो गई। टॉफियों में इतना जहर था कि जमीन पर पड़े उनके रैपर पर बैठने वाली मक्खियां भी मर गर्इं। जानकारी मिलने पर पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। परिजनों ने गांव के ही ३ लोगों पर रंजिश के चलते बच्चों की हत्या का आरोप लगाया है। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार कसया थाना क्षेत्र के कुड़वा दिलीप नगर सिसई लठाईत टोला गांव में बच्चों की मां ने बताया कि रंजिश में बच्चों की हत्या की गई है। बच्चे सुबह घर के बाहर खेल रहे थे। दरवाजे पर ही ४ टॉफियां पड़ी थीं। उन टॉफियों पर घर के लोगों की नजर पड़ी तो उठाकर बच्चों की दादी को दे दी।
टॉफी खाते ही बेहोश हो गए बच्चे
बच्चों की मां ने बताया कि टॉफी की बात सुनकर फौरन मेरे तीनों बच्चे और मेरी भतीजी का एक लड़का टॉफी लेने पहुंच गए। उन्होंने दादी से लेकर टॉफी खा ली। हम लोग घर से बाहर किसी काम से निकले ही थे, तभी सूचना मिली कि बच्चे बेहोश हो गए हैं। फौरन उन्हें लेकर सीएचसी भागे, वहां से जिला अस्पताल रेफर किया गया। रास्ते में ही चारों बच्चों ने दम तोड़ दिया। घटना की जानकारी मिलते ही पहुंची पुलिस को जांच में पता चला कि घर के बाहर फेंकी गई टॉफी खाने से बच्चों की मौत हुई है। माना जा रहा है कि टॉफियों में जहर मिला हुआ था, क्योंकि टॉफी कितनी भी पुरानी हो वह इतनी जहरीली नहीं हो सकती कि किसी की जान ले ले।
एक ही परिवार के ४ बच्चों की मौत
जानकारी के अनुसार मरने वालों में ४ बच्चे मंझना (७), स्वीटी (५), समर (३) और खुशबू का बेटा आयुष (५) है। जहर इतना घातक था कि जब से बच्चों ने टॉफी खाई तो उन्हें होश ही नहीं आया।
मक्खियों की भी हो रही मौत
ग्रामीणों ने बताया कि जहर इतना तेज है कि टॉफी के रैपर पर जो मक्खियां बैठीं उनकी भी मौत हो गई है। उनका ये भी कहना है कि एक टॉफी सुरक्षित रख भी ली गई है। अब जांच के बाद जहर का भी पता लग सकेगा। वहीं बच्चों का पोस्टमॉर्टम आने के बाद पूरा सच सामने आएगा।

अन्य समाचार