मुख्यपृष्ठनए समाचारशिंदे के गढ़ में गरजे आदित्य ठाकरे

शिंदे के गढ़ में गरजे आदित्य ठाकरे

-ठाणे का इलाका हमारा और धमाका भी हमारा ही होगा!

सामना संवाददाता / मुंबई

पहले भाजपा ही झूठ बोलती थी, लेकिन अब गद्दार गुट भी झूठ बोल रहा है। वे झूठ बोलकर कितना भी रो लें, लेकिन जनता उन्हें अब अच्छी तरह से पहचान गई है। ऐसे गद्दारों को आगामी चुनाव में शिवसैनिक सबक जरूर सिखाएंगे। ऐसा विश्वास जताते हुए शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) पक्ष नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने रविवार को ठाणे में हुई विशाल सभा में गद्दार गुट पर जोरदार हमला बोला। इस दौरान मुख्यमंत्री शिंदे पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि ठाणे शिवसेना का है, शिवसेना से गद्दार चले गए लेकिन शिवसैनिक हमारे साथ हैं, आदित्य ठाकरे ने गरजते हुए कहा कि ठाणे शिवसेना का है, यह इलाका हमारा है और यहां धमाका भी हमारा ही होगा।
ठाणे में शिवसैनिकों से संवाद साधते हुए आदित्य ठाकरे ने कहा कि ठाणेकरों का उद्धव ठाकरे पर पूरा भरोसा है, वे जब भी यहां आए उन्हें ठाणेकरों का भरपूर प्यार मिला है। इस दौरान आदित्य ठाकरे ने राज्य की `घाती’ सरकार पर जमकर बरसते हुआ कहा कि राज्य में पिछले ढाई साल से गद्दारों की सरकार महाराष्ट्र को हर प्रकार से कमजोर बनाने का काम कर रही है। राज्य में कोई नया उद्योग-व्यवसाय लाने में सफल नहीं हो पाई है, इसके विपरीत इस सरकार ने राज्य के उद्योग-धंधे गुजरात भेजने का कारनामा किया है।
राज्य के उद्योग, शेयर बाजार, हीरा बाजार सहित अन्य उद्योगों को गुजरात ले जाने में रुचि ले रही है, इन गद्दारों का बस चले तो वे महाराष्ट्र का मंत्रालय भी गुजरात लेकर चले जाएं।
ठाणे के आनंद नगर में शिवसेना शाखा का दौरा करने के बाद उन्होंने कहा कि ठाणेकरों ने उद्धव ठाकरे को इतना प्यार दिया कि उन्हें कभी नहीं लगा कि कोई गद्दार उन्हें छोड़कर चला गया है। गद्दार चला गया तो भी ठाणे शिवसेना का ही रहेगा। हमने यहां कई कार्यक्रम किए हैं, लेकिन इस कार्यक्रम में महिलाओं की मौजूदगी अहम है, जहां महिलाएं हैं वहां विश्वास है, प्रतिबद्धता है, परिवार होता है। उद्धव साहब को परिवार के मुखिया के रूप में जाना जाता है। क्योंकि महिलाओं को उद्धव बालासाहेब ठाकरे पर भरोसा है।
मुख्यमंत्री शिंदे पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि इन गद्दारों के आगे से गद्दारी का कलंक नहीं हटेगा, ये लोग सभी सभाओं में रोते हैं। अपने पिता को असफल बताते हैं, कुछ दिनों पहले सभा लेकर लोगों को अपनी असफलता को लेकर बोल रहे थे, मनो सभी अपनी असफलता बताने के लिए किया था, इनका क्या कल असंवैधानिक सरकार का खुद को असफल मुख्यमंत्री बताएंगे, जिसने इन्हें सबक़ुछ दिया। वे उसके पिता, पार्टी और विश्वास को चुराने निकले हैं। ऐसे लोगों को जनता सबक सिखाएगी। उद्धव ठाकरे के कार्यों की याद दिलाते हुए कहा कि कोरोना काल के दौरान उद्धव ठाकरे ने जो काम किए हैं, उसे लोग कभी नहीं भूल सकते हैं।
इस दौरान केंद्र की भाजपा सरकार और राज्य की शिंदे सरकार द्वारा ईडी व सीबीआई का जमकर किए जा रहे दुरुपयोग को लेकर उन्होंने कहा कि आज राज्य में गुंडों की सरकार आई है, बड़े-बड़े पोस्टर्स, बैनर में गुंडों की बड़ी-बड़ी तस्वीरें दिख रही हैं। ईडी और सीबीआई गुंडों के पीछे लगाने की बजाय अच्छे नेताओं को प्रताड़ित किया जा रहा है, जबकि गुंडे और बदमाशों को मंत्रालय में तैनात किया जा रहा है।

अन्य समाचार