मुख्यपृष्ठनए समाचार‘बेस्ट' को बचाने मैदान में उतरेंगे आदित्य ठाकरे -बेस्ट कामगार सेना में...

‘बेस्ट’ को बचाने मैदान में उतरेंगे आदित्य ठाकरे -बेस्ट कामगार सेना में सदस्यों को दिया आश्वासन

कहा बेस्ट का पुराना गौरव फिर वापस लाएंगे

सामना संवाददाता / मुंबई
रेलवे के बाद मुंबई की दूसरी लाइफ-लाइन कही जानेवाली ‘बेस्ट’ अपनी बसों की संख्या धीरे-धीरे कम कर रही है। इसके अलावा बेस्ट कर्मचारियों के कई सवाल लटके हुए हैं। ऐसे में बेस्ट कर्मचारियों और यात्रियों की समस्या को लेकर ‘बेस्ट’ कामगार सेना ने शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे से मुलाकात की और विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। बेस्ट कामगार सेना के पदाधिकारी सुहास सामंत ने बताया कि आदित्य ठाकरे ने इन तमाम विषयों पर आगे आकर नेतृत्व करने का दृढ़ आश्वासन दिया है। आदित्य ठाकरे ने कहा कि वे सभी आवश्यक विषयों को लेकर प्रशासन के साथ समन्वय का काम करेंगे और ‘बेस्ट’ को पुन: गौरव पूर्ण बनाने के लिए पूर्ण प्रयास करेंगे।
‘बेस्ट’ के विभिन्न मुद्दों को लेकर ‘बेस्ट कामगार सेना’ के एक प्रतिनिधिमंडल ने ‘मातोश्री’ आवास पर आदित्य ठाकरे से मुलाकात की। बेस्ट में ३,३३७ बसों के अपने बेड़े को बनाए रखने के लिए आवश्यक निधि जुटाने की आवश्यकता है। इसके अलावा बेस्ट में कर्मचारियों की स्थायी भर्ती, कर्मचारियों की रुकी हुई पदोन्नति, ग्रेज्युटी के बकाया का भुगतान आदि विशेष कार्यों के लिए निधि का प्रावधान जैसे विषयों पर चर्चा की गई। जिस पर आदित्य ठाकरे ने कहा कि वे इन सभी मुद्दों को गंभीरता से लेते हुए मनपा और राज्य सरकार के स्तर पर आवश्यक समन्वय बनाने का काम करेंगे। इस अवसर पर ‘बेस्ट’ समिति के पूर्व अध्यक्ष आशीष चेंबूरकर, अनिल कोकील, अनिल पाटनकर, ‘बेस्ट’ कामगार सेना के महासचिव रंजन चौधरी, उपाध्यक्ष उमेश सारंग, गणेश शिंदे उपस्थित थे।
कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारी अब बेस्ट बसों में मुफ्त यात्रा करेंगे
बेस्ट गतिविधियों में अनुबंध के आधार पर काम करनेवाले अनुबंध कर्मचारी अब बेस्ट बसों में मुफ्त में यात्रा कर सकेंगे।
एक नवंबर से उन्हें मुफ्त बस यात्रा की सुविधा मिली है। बेस्ट कर्मचारियों की इस मांग को बेस्ट प्रबंधन ने मंजूरी दी है।
नॉन-एसी बसों में मुफ्त यात्रा कर सकते हैं। इसके लिए बस पास की पत्रिका दी जाएगी। पास का शुल्क ३७५ रुपए यह राशि संबंधित कंपनी बेस्ट को भुगतान करेगी।

अन्य समाचार