मुख्यपृष्ठनए समाचारआदित्य ठाकरे का जोरदार हमला : इस्तेमाल करो और फेंक दो, यही...

आदित्य ठाकरे का जोरदार हमला : इस्तेमाल करो और फेंक दो, यही है भाजपा की नीति …चालीस गद्दारों का भी यही हाल होगा

सामना संवाददाता / मुंबई
भाजपा के साथ जब कोई नहीं था, तब उस कठिन समय में शिवसेना उसके साथ थी। पहले शिवसेना का इस्तेमाल किया और बाद में युति तोड़ दी। यूज एंड थ्रो यानी इस्तेमाल करो और फेंक दो, यही भाजपा की नीति है। उनके साथ गए ४० गद्दारों का भी यही हाल होनेवाला है। इस तरह का जोरदार हमला शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने कल किया।
यवतमाल वाशिम में महाविकास आघाड़ी के शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) प्रत्याशी संजय देशमुख के प्रचारार्थ सभा में भाजपा की इस्तेमाल करो और फेंको नीति पर आदित्य ठाकरे ने जोरदार प्रहार किया। उन्होंने कहा कि शिवसेना के साथ रहने से भाजपा के अच्छे दिन आए और उसके बाद देश के अच्छे दिन कब आएंगे, शिवसेना के यह पूछते ही भाजपा ने युति तोड़ दी। इसके उल्टे शिवसेना को धोखा दिए जाने से युति तोड़ने का आरोप लगाया गया। आदित्य ठाकरे ने कहा कि भाजपा ने लोकसभा के लिए शिवसेना का इस्तेमाल किया।
२०२४ में परिवर्तन होगा यानी होगा ही
आदित्य ठाकरे ने कहा कि पिछले ढाई सालों से महाराष्ट्र का चप्पा-चप्पा देख रहा हूं। लोगों को परिवर्तन चाहिए। देश में अब परिवर्तन की बयार बहने लगी है। मैं भी इस बात से आश्वस्त हूं। परिवर्तन होगा यानी होगा ही और उसे लाने के लिए हमारा स्वाभिमानी महाराष्ट्र अग्रणी होगा। इस तरह का अपना दृढ़ विश्वास भी उन्होंने व्यक्त किया।
‘घाती’-भाजपा में बोली लगने से तय नहीं हो रहे प्रत्याशी
अधिकांश निर्वाचन क्षेत्रों में अन्य दलों ने अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है, लेकिन महायुति ने अभी तक प्रत्याशी तय नहीं किए हैं। इस पर आदित्य ठाकरे ने निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि ‘घाती’ गुट और भाजपा में प्रत्याशियों पर बोलियां लगाई जा रही हैं, इसीलिए प्रत्याशी तय नहीं हो पा रहे हैं। आदित्य ठाकरे ने तंज कसते हुए कहा कि यवतमाल-वाशिम में नामांकन भरने के लिए केवल ७२ घंटों का समय शेष होने के बाद भी अभी तक महाविकास आघाड़ी के प्रत्याशियों के सामने महायुति के प्रत्याशी नहीं तय हुए हैं, क्योंकि घाती और भाजपा महाविकास आघाड़ी की ताकत से घबरा गई है।
दुनिया में हुई हिंदुस्थान की बदनामी
मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को जेल में डाल दिया। इस पर तंज कसते हुए आदित्य ठाकरे ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़नेवालों को मोदी सरकार द्वारा जेल में डाले जाने से दुनिया में हिंदुस्थान की बदनामी हुई है।
ईडी, सीबीआई, आईटी ये हैं
भाजपा के मित्रपक्ष
आदित्य ठाकरे ने कहा कि भाजपा की तानाशाही और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहे हैं, इसलिए मोदी सरकार ने दो मुख्यमंत्रियों को गिरफ्तार किया। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि ईडी, सीबीआई व इनकम टैक्स ये भाजपा के मित्रपक्ष हैं।
अच्छे दिन के रूप में मना इस बार ‘अप्रैल फूल’
किसी को मूर्ख बनाने के लिए दुनिया में एक अप्रैल का दिन अप्रैल फूल के रूप में मनाया जाता है। बीते दस सालों में मोदी सरकार ने केवल जुमलेबाजी करते हुए आश्वासन देकर लोगों को गुमराह किया है। मजाकिया लहजे में आदित्य ठाकरे ने कहा कि इसीलिए लोग कह रहे हैं कि इस बार अप्रैल फूल देश में अच्छे दिन के रूप में मनाया गया।
भाजपा के संविधान को नहीं होने देंगे लागू
भाजपा को देश का संविधान पसंद नहीं आ रहा है। उन्हें महामानव डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के संविधान को एक तरफ रखकर खुद का संविधान देश में लागू करना है, लेकिन शिवसेना ऐसा कदापि नहीं होने देगी। इस तरह की चेतावनी आदित्य ठाकरे ने दी।
दिल्ली जीतेगी कांग्रेस और आप
आदित्य ठाकरे ने कहा कि केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल और सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन को ताकत देने के लिए ‘इंडिया’ गठबंधन का सम्मेलन हाल ही में दिल्ली में हुआ। इस दौरान दिल्लीकर नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।
घर-घर पहुंचाएं ‘अब की बार… भाजपा तड़ीपार’ का नारा
‘अब की बार… भाजपा तड़ीपार’ का नारा देते हुए आदित्य ठाकरे ने इसे घर-घर पहुंचाने की अपील की। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने दिल्ली में आंदोलनकारी किसानों पर ड्रोन से आंसू गैस के गोले छोड़े। स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने का आश्वासन देकर भी किसानों के साथ की गई धोखाधड़ी की याद भी आदित्य ठाकरे ने दिलाई। आदित्य ठाकरे ने कहा कि गुजरात में बिल्किस बानो के अत्याचारियों को भाजपा की तरफ से सत्कार और यवतमाल में महिलाओं पर अत्याचार करनेवालों को घातियों ने मंत्रिमंडल में जगह दी। आदित्य ठाकरे ने सवाल किया कि महिलाओं पर अत्याचार करनेवालों को आप वोट देंगे क्या, यह पूछते ही उपस्थित महिलाओं ने ना में जवाब दिया।

अन्य समाचार