मुख्यपृष्ठनए समाचारलोकसभा चुनाव के बाद देश में होंगे ५० राज्य! कर्नाटक के मंत्री...

लोकसभा चुनाव के बाद देश में होंगे ५० राज्य! कर्नाटक के मंत्री का दावा

  • दो राज्यों में विभाजित होगा महाराष्ट्र!

सामना संवाददाता / बंगलुरु

‘मोदी सरकार देश में राज्यों की संख्या बढ़ाकर ५० करने की योजना बना रही है और महाराष्ट्र को दो राज्यों में विभाजित किया जाएगा।’ यह दावा किया है भाजपा के वरिष्ठ मंत्री उमेश कुट्टी ने। बता दें कि कुट्टी कर्नाटक में भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं और बोम्मई सरकार में खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री हैं।
बता दें कि खाद्य, सिविल आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री उमेश कुट्टी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने २०२४ के चुनावों के बाद देश में ५० राज्य बनाने का फैसला  किया है। मुझे पता चला है कि वह इस पर विचार कर रहे हैं।’
उन्होंने कहा कि `प्रधानमंत्री मोदी प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं। राज्य को विभाजित करने का विचार अच्छा है क्योंकि पिछले कुछ वर्षों में जनसंख्या का बोझ बढ़ा है। जनसंख्या में वृद्धि के मद्देनजर ५० राज्यों के गठन के विचार का समर्थन करते हुए कुट्टी ने कहा, ‘कर्नाटक से दो राज्य, उत्तर प्रदेश से चार, महाराष्ट्र से तीन और इसी तरह के अन्य राज्य बनने चाहिए।’
बोम्मई ने बयान का किया खंडन
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने उमेश कुट्टी के दावे को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा उत्तर कर्नाटक को स्वतंत्र राज्य का दर्जा देने का विचार नहीं है। बोम्मई ने कहा, ‘हमें देश में राज्यों की संख्या बढ़ाकर ५० करने के किसी प्रस्ताव के बारे में जानकारी नहीं है और केंद्र सरकार ने हमारे साथ इस मामले पर चर्चा नहीं की है।’
कुट्टी ने पहले भी दिया है विवादित बयान
बता दें कि हुक्केरी विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करनेवाले कुट्टी ने पहले में भी उत्तरी कर्नाटक के लिए अलग राज्य की मांग की है। २०१९ में कुट्टी ने तत्कालीन मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा को उत्तर कर्नाटक को अलग राज्य का दर्जा देने की मांग की थी। २०२१ में कुट्टी ने यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया था कि जिन लोगों में आत्मविश्वास की कमी है वो कोरोना से नहीं लड़ सकते।

अन्य समाचार