मुख्यपृष्ठनए समाचारअग्निपथ न बन जाए केंद्र की अग्निवीर योजना!

अग्निपथ न बन जाए केंद्र की अग्निवीर योजना!

  • बेरोजगार युवाओं का मजाक न बनाए सरकार
  • देशभर के युवाओं में असमंजस एवं रोष

सामना संवाददाता / जम्मू
केंद्र सरकार ने युवाओं के लिए अग्निवीर भर्ती योजना शुरू की है। इसका पूरे देश में पुरजोर विरोध जारी है। इसी कड़ी में कश्मीर में शिवसेना ने भी केंद्र सरकार की इस योजना का पुरजोर खंडन किया है। शिवसेना ने इसे देश के युवाओं के साथ क्रूर मजाक बताते हुए आशंका जताई है कि चार वर्षीय अग्निवीर भर्ती योजना देश के युवाओं के लिए आगे चलकर कहीं अग्निपथ न बन जाए।
पार्टी प्रदेश कार्यालय जम्मू में कल आयोजित पत्रकारवार्ता में प्रदेशप्रमुख मनीष साहनी ने कहा कि भारतीय लोकतंत्र की खूबसूरती रही है कि सत्ताधारी दल विपक्षी दलों के साथ मिल‌कर देश व जनता हित के निर्णय लेते रहे हैं। अब भाजपा के केंद्र की सत्ता में काबिज होने के बाद लगातार विपक्ष से सलाह लेना तो दूर उनके अस्तित्व को खत्म करने की कोशिशें हो‌ रही हैं, जो लोकतंत्र की सेहत के लिए गंभीर खतरा है।
सैन्यबलों की काबिलियत पर सवालिया निशान
साहनी ने कहा कि नोटबंदी, जीएसटी, किसान बिल, अनुच्छेद-३७० के निरस्तीकरण आदि में विपक्ष को कहीं भी शामिल नहीं किया गया। अब सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निवीर योजना में भी विपक्ष कहीं शामिल नहीं रहा, जिसको लेकर आज देशभर के युवाओं में असमंजस एवं रोष की स्थिति बनी हुई है। साहनी ने कहा कि मौजूदा स्थितियों के लिए सीधे तौर पर केंद्र की मोदी सरकार जिम्मेदार है। साहनी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के युवाओं में भी इस योजना के प्रति भारी आक्रोश है। पिछले दो सालों से लिखित परीक्षा का इंतजार कर रहे सैन्य बलों के अभ्यार्थियों में इस योजना के बाद असमंजस बना हुआ है और वे सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। साहनी ने कहा कि केंद्र सरकार की इस योजना से सैन्यबलों की काबिलियत और विश्वसनीयता पर भी सवालिया निशान खड़े होंगे। साहनी ने कहा कि शिवसेना जम्मू-कश्मीर इकाई केंद्र सरकार की अग्निवीर योजना का कड़े शब्दों में खंडन‌ करने के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस योजना को तुरंत बंद कर बेरोजगार युवाओं का मजाक न बनाने की अपील करती है।‌ इस मौके पर अध्यक्ष महिला विंग मीनाक्षी छिब्बर, महासचिव विकास बख्शी, चेयरमैन राकेश गुप्ता, उपाध्यक्ष बलवंत सिंह, अध्यक्ष कामगार विंग राज सिंह, राजेश हांडा, मंगू राम, शशिपाल आदि उपस्थित थे।

अन्य समाचार

ऊप्स!