मुख्यपृष्ठसमाचारआरएलडी प्रदेश अध्यक्ष ने अखिलेश-जयंत पर लगाया टिकट बेचने का आरोप, दिया...

आरएलडी प्रदेश अध्यक्ष ने अखिलेश-जयंत पर लगाया टिकट बेचने का आरोप, दिया इस्तीफा

• सपा से अलग होने लगे हैं चुनाव में जुड़े नेता
• ओपी राजभर दिल्ली में भाजपा नेताओं से कर रहे हैं बैठकें

रमेश ठाकुर / नई दिल्ली: चुनाव परिणाम आने के बाद गठबंधन के नेताओं का खिसकना शुरू हो गया। बड़बोले ओम प्रकाश राजभर बीते दो दिनों से दिल्ली में डेरा जमाए हुए हैं। गृहमंत्री अमित शाह के अलावा अन्य भाजपा नेताओं से मुलाकात कर चुके हैं। वहीं, शनिवार शाम होते-होते एक और बम फुट गया। आरएलडी के प्रदेश अध्यक्ष मसूद अहमद अखिलेश यादव-जयंत चौधरी पर चुनाव में सामूहिक रूप से टिकट बेचने का आरोप लगाकर अपना इस्तीफा भेज दिया। अपने इस्तीफे में उन्होंने और भी कई गंभीर आरोप जड़े। उन्होंने आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी और समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के नाम पर एक खुली चिट्ठी सावर्जनिक की, जिसमें उत्तर प्रदेश चुनाव में सपा-आरएलडी गठबंधन के हार के कारणों का बिंदुवार उल्लेख किया। चुनाव में टिकट बेचे जाने को उन्होंने सबसे बड़ी वजह बताई। सपा गठबंधन को तोड़ने के पीछे भाजपा का हाथ बताया जा रहा है।
सूत्र बताते हैं, मसूद अहमद और ओपी राजभर पर भाजपा ने 2024 को ध्यान में रखकर पासा फेंका है। बताया ये भी जा रहा है कि राजभर भाजपा में जा सकते हैं और योगी आदित्यनाथ सरकार का हिस्सा हो सकते हैं। वहीं, मसूद अहमद के जरिए भाजपा आगामी लोकसभा चुनाव में मुस्लिम वोटरों में सेंधने में लगी। मसूद का अपने क्षेत्र में अच्छा दबदबा है जिसको भाजपा भुनाना चाहती है।

अन्य समाचार