मुख्यपृष्ठनए समाचारहिंदुस्थानियों के कत्लोगारत के लिए अलकायदा तैयार! बांग्लादेश में तैयार हो रही...

हिंदुस्थानियों के कत्लोगारत के लिए अलकायदा तैयार! बांग्लादेश में तैयार हो रही है गजवा-ए-हिंद की जमीन

सामना संवाददाता / कोलकाता
हिंदुस्थान के पड़ोसी देश बांग्लादेश में जोर-शोर से हिंदू विरोधी माहौल बन गया है। यहां के हिंदुस्थानियों के कत्लोगारत के लिए गजवा ए हिंद की जमीन तैयार हो रही है। आतंकी संगठन अलकायदा के कार्यकर्ताओं द्वारा हिंदुस्थान के बंगाल और बांग्लादेश के युवाओं का ब्रेनवॉश करके स्लीपर सेल मॉड्यूल तैयार करने का खेल जारी है। ये खुलासा बंगाल पुलिस के विशेष कार्यबल (एसटीएफ) द्वारा गिरफ्तार किए गए दो एक्यूआईएस (भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा का माड्यूल) कार्यकर्ताओं रकीब सरकार और काजी एहसानुल्ला से पूछताछ के बाद हुआ है।
एसटीएफ सूत्रों ने कहा कि गिरफ्तार दोनों एक्यूआईएस कार्यकर्ताओं ने उन्हें उत्तर बंगाल के कूचबिहार जिले के सीताई इलाके में एक समान मॉड्यूल के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि इसे मोहम्मद सैफुद्दीन और नूर कासिम द्वारा चलाया जाता है। हालांकि जब तक एसटीएफ की टीम भारत-बांग्लादेश सीमा के काफी करीब स्थित इस गांव में पहुंची, तब तक दोनों फरार हो गए थे। एसटीएफ उनकी तलाश कर रही है।
ग्रामीणों ने अधिकारियों को बताया कि सैफुद्दीन गांव की एक स्थानीय मस्जिद में इमाम था और वहां अपनी पत्नी के साथ रहता था। हालांकि इस साल जून की शुरुआत में अचानक वह लापता हो गया और कुछ दिन बाद ही कासिम भी गांव से गायब हो गया। दोनों अलकायदा आतंकियों ने एसटीएफ के अधिकारियों को बताया है कि सैफुद्दीन और कासिम उत्तर बंगाल के विभिन्न इलाकों में युवाओं का ब्रेनवाश करने, उन्हें प्रशिक्षण के लिए भेजने और स्लीपर सेल मॉड्यूल में शामिल करने के लिए काम कर रहे थे।
उल्लेखनीय है कि एसटीएफ ने १८ अगस्त को उत्तर २४ परगना जिले के बारासात ब्लाक के शासन गांव से रकीब सरकार और काजी एहसानुल्लाह को गिरफ्तार किया था। दोनों ने कबूल किया कि स्लीपर सेल नेटववर्क का विस्तार करने के मिशन में न केवल बंगाल बल्कि पड़ोसी बांग्लादेश के भी प्रभावशाली युवा थे। इनमें रकीब सरकार को बंगाल में एक्यूआईएस की बाहरी समन्वय शाखा अंसार अल इस्लाम जिसे अंसारुल्लाह बांग्ला टीम (एबीटी) के रूप में भी जाना जाता है, का मुख्य समन्वयक भी बनाया गया था।

अन्य समाचार