मुख्यपृष्ठटॉप समाचारसमुद्र किनारे आना प्यारे! मिलेंगी मनोरंजन की हर सुविधाएं...हाजी अली से वर्ली...

समुद्र किनारे आना प्यारे! मिलेंगी मनोरंजन की हर सुविधाएं…हाजी अली से वर्ली में सी-लिंक छोर तक समुद्री फुटपाथ

रामदिनेश यादव / मुंबई। फिल्मी लोगों का पसंदीदा जॉगिंग ट्रैक वर्ली का सी-फेस इलाका रहा है। जल्द ही यहां के बारे में अब हर कोई आपसे कहते हुए मिलेगा कि समुद्र किनारे आना प्यारे। दरअसल, इसका कायाकल्प होगा और नया रूप दिया जाएगा। इसके बाद यह विश्व के टॉप समुद्री पादचारियों में शामिल हो जाएगा। हाजी अली से लेकर सी-लिंक रोड के वर्ली छोर तक कुल ८.५ किमी लंबा समुद्री पादचारी (फुटपाथ) बनाने की योजना है। यह ३.५ किमी लंबे मरीन ड्राइव से भी काफी बड़ा होगा। खास बात यह है कि मरीन ड्राइव से ज्यादा आकर्षक, सुविधाजनक और पर्यावरण के अनुकूल होगा। यह मुंबई कोस्टल रोड परियोजना का एक भाग होगा।
मनपा मुंबईकरों के लिए `खुशहाल यात्रा, खुले में सांस’ और बहुउद्देश्यीय योजनाओं के साथ कोस्टल रोड परियोजना का निर्माण कर रही है। कोस्टल रोड का काम तय समय के मुताबिक चल रहा है। मनपा का महत्वाकांक्षी व शानदार `कोस्टल रोड’ न केवल मुंबईवासियों की सेवा में काम आएगी, बल्कि अपने साथ मुंबईवासियों के लिए कई नए आकर्षण और सुविधाएं भी लेकर आएगी। इन समुद्र से आने वाली ठंडी शीतल हवा में लहराते बगीचे, ओपन थिएटर जहां समुद्र की लहरों की संगति में विभिन्न कलाओं का प्रदर्शन किया जा सकता है, अंडरग्राउंड गार्डन, बटरफ्लाई पार्क आदि सुविधाएं समुद्र के किनारे कोस्टल रोड से सटकर मिलने वाला है।
बहुत विशेष होगा सबसे बड़ा फुटपाथ
• मुंबई का सबसे बड़ा समुद्र किनारे फुटपाथ की लंबाई ८.५ किमी लंबी होगी तो चौड़ाई २० मीटर होगी।
•यह सबसे बड़ा फुटपाथ हिंदुस्थान के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न इंदिरा गांधी की स्मृति को समर्पित है। यह हाजी अली से सी-लिंक रोड के वर्ली छोर तक लंबा होगा।
•यहां साइकिल ट्रैक, गार्डन, जॉगिंग ट्रैक, बटरफ्लाई पार्क, अंडरग्राउंड बियोडायवर्सिटी गार्डन, ओपन थिएटर्स, जगह-जगह शौचालय, खेल मैदान आदि व्यवस्था के साथ पूरी तरह से सुसज्ज होगा।
•कोस्टल रोड परियोजना के तहत यहां कुल १११ हेक्टेयर क्षेत्रफल में भराई की जा रही है, जिसमें से २६ हेक्टेयर क्षेत्रफल को कोस्टल रोड के रिंग रोड परियोजना के लिए सुरक्षित रखा गया है।
•समुद्र फुटपाथ के नीचे पार्विंâग की व्यवस्था भी बनाई जाएगी। इस क्षेत्र में १,८६४ वाहनों की क्षमता वाले ३ अंडरग्राउंड कार पार्क बनाए जाएंगे।

अन्य समाचार