मुख्यपृष्ठनए समाचारमुंबई के किनारे, मछुआरों के सहारे! पुलिस ने कहा, गतिविधियों पर रखें...

मुंबई के किनारे, मछुआरों के सहारे! पुलिस ने कहा, गतिविधियों पर रखें नजर

सामना संवाददाता / मुंबई
१५ अगस्त स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर मुंबई पुलिस अलर्ट पर है। दुश्मनों से खतरे को ध्यान में रखते हुए मुंबई पुलिस ने शहर की सुरक्षा बढ़ा दी है। मुंबई पुलिस की तरफ से बताया गया है कि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए शहर के अंदरूनी हिस्से से लेकर बाहरी हिस्से तक पर पुलिस नजर रख रही है। मुंबई से लगे समुद्री किनारों पर मछुआरों और कोस्ट गार्ड की मदद ली जा रही है। कहने का तात्पर्य यह है कि प्रशासन कमजोर पड़ रहा है और मुंबई के समुद्री किनारे की सुरक्षा के लिए मछुआरों का सहारा ले रहा है।
शहर में कोई अप्रिय घटना न घटे इसे ध्यान में रखते हुए जिस किसी भी व्यक्ति पर शक हो उन तमाम व्यक्तियों की तलाशी ली जा रही है और बम डिटेक्शन एंड डिस्पोजल स्क्वॉड (बीडीडीएस) के साथ परिसर की जांच की जा रही है। मुंबई के ९४ पुलिस स्टेशनों के इंचार्ज को सख्त हिदायत दी है कि वे हाई अलर्ट पर रहें और उनके ज्यूरीसडिक्शन में पेट्रोलिंग करते रहें। इसके अलावा एंटी टेरर सेल (एटीसी) और बीट ऑफिसर को छोटे-छोटे हिस्सों से इंटेलीजेंस की जानकारी इकट्ठा करने को कहा गया है। रात के समय कोई संदेहास्पद दिखाई दे तो उससे पूछताछ की जा रही है और उसकी जानकारी भी ली जा रही है। मुंबई पुलिस के स्पेशल ब्रांच, क्राइम ब्रांच, प्रोटेक्शन एंड सिक्योरिटी (इसमें बीडीडीएस और क्यूआरटी का भी समावेश है) इन सभी को सतर्वâ रहने कहा गया है। शहर के अंदर भीड़-भाड़ वाले स्थानों, सार्वजनिक स्थलों एवं सार्वजनिक परिवहन वाहनों के अलावा ऐतिहासिक एवं संवेदनशील स्थानों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है।
दी गई है सुरक्षा संबंधी ट्रेनिंग
मुंबई से लगे समुद्री किनारे सुरक्षा की दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण हैं। ऐसे में समुद्र में मछली पकड़ने वाले मछुआरों को भी अलर्ट किया गया है। उन्हें सुरक्षा संबंधी ट्रेनिंग दी गई है। सुरक्षा रक्षकों एवं मछुआरों को समुद्र की हलचलों पर नजर रखने की सलाह दी गई है। इसके अलावा मुंबई पुलिस की सागरीय पुलिस, कोस्टल पुलिस के साथ मिलकर तटों की निगरानी करने में जुटी हुई है। तटों पर बनाए गए सेफ्टी टॉवर की मरम्मत एवं उसकी मदद से हर हलचल पर निगरानी रखी जा रही है। उन्हें समुद्र किनारे या अंदर किसी भी तरह से संदेहास्पद हलचल दिखाई दे तो तुरंत कोस्ट गार्ड या पुलिस को संपर्क करने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही बाहरी हिस्से में मुंबई के कोस्टल इलाके की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। विभिन्न चौपाटियों पर मौजूद नावों के मालिकों, होटेल्स, लॉज के मालिकों को आने-जाने वालों पर नजर रखने की हिदायत दी गई है।

अन्य समाचार