मुख्यपृष्ठअपराधकोलसेवाड़ी में फिर हुई एक नाबालिग की मौत

कोलसेवाड़ी में फिर हुई एक नाबालिग की मौत

सामना संवाददाता / कल्याण
कल्याण-पूर्व में अपराधियों का हौसला चरम पर पहुंच गया है। पूरे सूबे में अराजकता की स्थित बनी हुई है। रोज किसी न किसी घटना को अपराधियों द्वारा अंजाम दिया जा रहा है। कानून का भय अपराधियों के मन में अब नजर नहीं आ रहा है। कोलसेवाड़ी पुलिस थाने की सीमा में दो दिन पहले एक नाबालिग युवती की हत्या से नागरिक अभी उबरे भी नहीं थे कि एक नाबालिग युवक की पीट-पीट कर हत्या करने की घटना सामने आई है। हत्या के मामले में कोलसेवाड़ी पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है, जिसमें दो नाबालिग बताए जा रहे हैं। मृतक युवक के ऊपर भी कोलसेवाड़ी पुलिस थाने में कई मामले दर्ज हैं।
मिली जानकारी के अनुसार, मृतक समीर लोखंडे (17) व उसके दोस्तों के साथ क्षेत्र के रहनेवाले लड़कों के साथ कुछ दिन पहले मार-पीट हुई थी। इस मार-पीट में समीर लोखंडे ने जितेश तिवारी नामक युवक की पिटाई कर दी थी, जिससे उसके सिर पर दो टांके भी लगे थे। इसी बात का गुस्सा तिवारी व उनके दोस्तों के मन में था। शुक्रवार शाम को समीर लोखंडे कल्याण-पूर्व आई वार्ड के पास अपने दो दोस्तों के साथ खड़ा था कि तिवारी के दोस्तों की नजर लोखंडे व उसके दोस्तोँ पर पड़ी। इन लोगों ने मिलकर समीर व उनके दोस्तों की पिटाई करने लगे। मौका देख कर समीर के दोस्त वहां से फरार हो गए, लेकिन समीर इन लोगों के चंगुल से नहीं बच पाया। इन लोगों ने समीर को कल्याण-पूर्व आई वार्ड के पीछे स्थित एक गार्डन में लेकर गए और वहां डंडे से जमकर पिटाई किए,  जिससे वह बुरी तरह से जख्मी हो गया। जिसे उपचार के लिए मुंबई के सायन अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां उपचार के दौरान समीर लोखंडे की मौत हो गई। पुलिस ने इस संदर्भ में मुकेश उर्फ विठ्ठल कान्या, नीरज दास सहित दो नाबालिग युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ किया तो उन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया। फिलहाल, कोलसेवाड़ी पुलिस अन्य हमलावरों की तलाश में जुटी हुई है।

अन्य समाचार