मुख्यपृष्ठअपराधअंतर्वेग : रील्स के चक्कर में ली जान!

अंतर्वेग : रील्स के चक्कर में ली जान!

सुशील राय

वर्तमान समय में रील्स बनाने का चलन जोरों पर है। जहां देखों वहीं लोग रील्स बनाते हुए दिख जाते हैं। रील्स बनाने को लेकर कभी-कभी परिवार में कलह भी हो जाता है, जिसका अंजाम खौफनाक होता है। ऐसी ही खौफनाक घटना बिहार के बेगूसराय में सामने आई। जिले के निवासी पति-पत्नी में रील्स को लेकर ऐसी रार हुई, जो पति की मौत के बाद खत्म हुई। दरअसल, एक महिला को रील्स बनाने का शौक था, जिसे उसका पति पसंद नहीं करता था। वो अक्सर अपनी पत्नी को रील्स बनाने से मना करता था, जिससे दोनों में अक्सर झगड़े भी होते रहते थे। इन झगड़ों से तंग आकर महिला ने अपने मायके वालों के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी। यह घटना खोदाबंदपुर थाना क्षेत्र के फफौत गांव की है। पुलिस के अनुसार, समस्तीपुर जिला के नरहन गांव निवासी महेश्वर की शादी ६-७ वर्ष पूर्व फफौत गांव की रहने वाली रानी कुमारी (सभी बदला हुआ नाम) के साथ हुई थी। महेश्वर कोलकाता में रोजमर्रा का कामकाज करता था और हाल ही में घर आया था। पिछले कुछ दिनों से उसकी बीवी रानी कुमारी टिक-टॉक और इंस्टाग्राम पर काफी वीडियो बनाती थी। इसका विरोध महेश्वर करता था, लेकिन रानी अपने पति की बात मानने को तैयार नहीं थी। आरोप है कि बीते रविवार की रात ९ बजे महेश्वर अपने ससुराल फफौत गया था, जहां उसकी पत्नी और ससुराल वालों ने गला दबाकर हत्या कर दी। इस घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया है कि टिक-टॉक पर वीडियो बनाने का विरोध करने पर पत्नी और ससुराल वालों ने ही महेश्वर की फांसी लगाकर हत्या कर दी गई है।
पैसों के कारण
परिवार को मार डाला!
बाप बड़ा न भइया, सबसे बड़ा रुपइया! ये कहावत चरितार्थ हुई है। एक युवक ने पैसों की खातिर अपने पूरे परिवार को मार डाला। हद की बात तो ये है कि हत्या करने के बाद खुद पुलिस स्टेशन में जाकर आत्मसमर्पण भी किया। घटना राजस्थान के नागौर जिले की है। बताया जा रहा है कि युवक ने पैसों के विवाद में इस घटना को अंजाम दिया। पुलिस के अनुसार, नागौर में २५ वर्षीय बेटे ने धारदार हथियार से अपने ही परिवार के तीन लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी। उसने अपने पिता, मां और बहन का मर्डर किया। इसकी जानकारी होने के बाद पादूकला थाना एसएचओ मानवेंद्र सिंह पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। तीनों को उन्होंने पादूकला के राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने तीनों के शवों को मोर्चरी में रखवा दिया है, साथ ही हत्यारे बेटे को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, पादूकला थाना के कुम्हारों का मोहल्ला निवासी दिलीप सिंह पुत्र जगदीश सिंह (४५, सभी बदला हुआ नाम) अपनी पत्नी और बेटी के साथ अपने घर में शनिवार को नींद में सो रहा था। उसका बेटा मोहित (२५) देर रात घर में पहुंचा और कुल्हाड़ी से इन तीनों पर हमला बोलकर काट दिया, जिनकी मौके पर ही मौत हो गई। मरने वालों में मां राजेश कंवर, पिता दिलीप सिंह और बहन पिंकी कंवर उर्फ प्रियंका कंवर (१५) है।

अन्य समाचार