मुख्यपृष्ठअपराधअंतर्वेग : पड़ोसी संग प्यार में गई जान!

अंतर्वेग : पड़ोसी संग प्यार में गई जान!

सुशील राय

पति-पत्नी का रिश्ता विश्वास पर टिका होता है। ये विश्वास डगमगाने पर अंजाम खौफनाक होता है। ऐसी ही एक महिला को अपने पड़ोसी से प्यार हो गया, जिसकी कीमत उसे जान गवां कर चुकानी पड़ी। सबसे बड़ी बात ये है कि उसकी हत्या कोई और नहीं, बल्कि उसके पति ने की थी। हत्या के बाद अपने बहनोई के साथ मिलकर उसके शव को जंगलों में फेंक दिया। पुलिस इस मामले में आरोपी पति और उसके बहनोई को हिरासत में लेकर जांच में जुट गई।
दरअसल, तीन जनवरी को यूपी पुलिस को मेरठ के भावनपुर थाना क्षेत्र में गन्ने के खेत में महिला का शव मिला था। महिला की पहचान नहीं हो सकी। इसी बीच बुलंदशहर के खुर्जा निवासी आकाश और गौरव पुत्र श्याम सुंदर सैनी मोर्चरी पहुंचे और शव की पहचान बहन गुंजन के रूप में की। उन्होंने बताया था कि गुंजन की शादी २२ फरवरी २०१९ को ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के मोहल्ला भगवतपुरा हनुमान मंदिर के पास रहने वाले विशाल सैनी के बेटे गजन सैनी (सभी बदला नाम) से हुई थी। परिजनों ने बताया था कि दो जनवरी को गुंजन की भाभी अलका ने उन्हें फोन कर बताया था कि गुंजन दोनों बच्चों को छोड़कर दवा लेने के बहाने कहीं चई गई है और उसका कहीं पता नहीं चल रहा है। उन्होंने तीन जनवरी को ब्रह्मपुरी थाने में गुंजन की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। गुंजन के परिजनों ने उसके पति विशाल और उसके बहनोई पर हत्या का शक जताया था, जिसके बाद पुलिस ने पति को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।
अवैध संबंधा का था शक
विशाल ने बताया कि गुंजन के उसके पड़ोसी अंशुल सैनी से अवैध संबंध थे। २८ नवंबर को उसने दोनों को बात करते हुए पकड़ लिया। गुंजन सैनी के दो बच्चे खुशी और बेटा शिवा हैं। प्रेमी से बात करने पर पति ने गुस्से में हत्या की बात कबूल कर लिया। इसके बाद गुंजन के परिजनों को बुलाया गया। उनकी शिकायत के आधार पर हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

गला घोंटकर की हत्या
एसपी देहात कमलेश बहादुर ने बताया कि विशाल सैनी ने कबूल किया कि उसने दो जनवरी की रात ढाई बजे गुंजन को उसके प्रेमी अंशुल सैनी से फोन पर बात करते हुए पकड़ लिया था। गुस्से में आकर उसने गुंजन की गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद बहन और बहनोई को बुलाया। रात में जीजा गोवर्धन अपना ई-रिक्शा लेकर ब्रह्मपुरी पहुंचा और दोनों शव को कपड़े में लपेटकर रिक्शा में ले गए। शव को भावनपुर के जंगल में सड़क किनारे एक खेत में फेंक दिया।

अन्य समाचार