मुख्यपृष्ठनए समाचारभूतेश्वर स्टेशन के पास असामाजिक तत्वों ने फेंके वंदे भारत एक्सप्रेस पर...

भूतेश्वर स्टेशन के पास असामाजिक तत्वों ने फेंके वंदे भारत एक्सप्रेस पर पत्थर

कमलकांत उपमन्यु / मथुरा

160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दिल्ली से भोपाल जा रही वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन पर मथुरा में पत्थर फेंकने की घटना सामने आई है। तेज स्पीड में दौड़ रही ट्रेन पर पत्थरबाजी से इंजन और एसी कोच में क्रेक हुआ है। खिड़की के सहारे बैठे यात्री इस घटना से सहम गए।
निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से रानी कमलापति स्टेशन भोपाल जा रही वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन भूतेश्वर स्टेशन के मध्य से गुजर रही थी, तभी शाम को किमी संख्या 1398/13 कैलाश नगर कॉलोनी के आस-पास ट्रेन पर पत्थरबाजी की घटना हुई। इनमें से अधिकांश पत्थर इंजन के लुकिंग ग्लास और कोच नंबर सी-12 की खिड़कियों पर जाकर लगे। भूतेश्वर से मथुरा जंक्शन के मध्य हुई इस घटना से खिड़की के पास बैठे यात्री सहम गए। इंजन में पत्थर लगते ही लोको पायलट ने किसी तरह ट्रेन की स्पीड कम की और ट्रेन को मथुरा स्टेशन ट्रेन के आउटर पर सिग्नल पर रोक दिया। पत्थरबाजी की इस घटना में लुकिंग ग्लास और कोच की खिड़कियों के शीशे चटक गए हैं। मथुरा जंक्शन के पास यह ट्रेन करीब 15 मिनट तक खड़ी रही, जिसके बाद इसे आगरा रवाना किया गया। यहां आगरा कैंट स्टेशन पर ट्रेन की जांच की गई। ज्ञात रहे कि आठ माह में इस ट्रेन में दर्जनभर से अधिक पत्थर फेंकने की घटनाएं हुई हैं। सबसे अधिक घटनाएं पलवल, मथुरा, ग्वालियर और भोपाल के पास हुई हैं।
आरपीएफ ने दर्ज किया मुकदमा
वंदे भारत ट्रेन पर पत्थर फेंकने की जानकारी ट्रेन के लोको पायलट ने मथुरा स्टेशन अधीक्षक और रेलवे सुरक्षा बल को दी, जिसके बाद राजकीय सुरक्षा बल ने अज्ञात के विरुद्ध रेलवे संपत्ति को नुकसान पंहुचाने में रेलवे एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है। आरपीफ के कार्यवाहक इंस्पेक्टर जीपी मीना ने बताया कि वंदे भारत एक्सप्रेस पर पत्थर फेंके गए हैं। इस मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है।
सीसीटीवी कैमरों से होगी जांच
आरपीएफ के सीनियर कमांडेंट अनुभव जैन ने बताया कि आरपीएफ की एक टीम को भोपाल रेल मंडल भेजा गया है। टीम द्वारा वंदे भारत एक्सप्रेस में लगे सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग की जांच की जाएगी। यह पता लगाने का प्रयास किया जाएगा कि आखिर पत्थर किसने फेंके हैं।

अन्य समाचार