मुख्यपृष्ठसमाचारआधी रात के बाद जारी होता है जुल्म! चीन से अमेरिका भागी...

आधी रात के बाद जारी होता है जुल्म! चीन से अमेरिका भागी महिला ने बताया दर्द

  • तीन-चार बार किया गया था सामूहिक दुष्कर्म

एजेंसी / बीजिंग
चीन से भागकर अमेरिका में रह रहीं तुर्सुने जियावुडुन ने अपने एक इंटरव्यू में बताया कि आधी रात के बाद वे हमारे सेल में आते। किसी लड़की को पसंद करते और ब्लैक रूम में ले जाते। उस रूम में कोई कैमरा नहीं होता था। हर रात लड़कियों को उनके सेल से निकालकर ले जाया जाता। एक या ज्यादा मास्क पहने हुए चीनी सैनिक उनका बलात्कार करते। तीन अलग-अलग मौकों पर तीन-चार लोगों ने जियावुडुन के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। यह सब उनके साथ इसलिए हुआ क्योंकि वे उइगर मुसलमान हैं। वहीं यूएन की रिपोर्ट ने इस तरह के डिटेंशन कैंपों में बलात्कार और यौन शोषण के आरोपों को सही पाया है। चीन के शिनजियांग इलाके में बड़े स्तर पर लोगों को मनमाने ढंग से गिरफ्तार किया जा रहा है। यहां उइगर मुसलमानों की एक बड़ी आबादी रहती है। इन लोगों को हाई-सिक्योरिटी फैसिलिटीज यानी डिटेंशन कैंपों में रखा जाता है। ये कब तक यहां रहेंगे इसकी कोई तय समय-सीमा नहीं है?
आतंकी होने के शक पर होती है गिरफ्तारी
चीन की सरकार आतंकी होने के शक पर लोगों को गिरफ्तार करती है। इसके पीछे वैसे तो कोई तर्क नहीं होता लेकिन कारण कुछ भी हो सकता है। संयुक्त राष्ट्र ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि आतंकवाद के गंभीर या मामूली केसों और चरमपंथी कामों में कोई खास अंतर नहीं है। दोनों ही केसों में आरोपियों के साथ अक्सर एक जैसा व्यवहार किया जाता है।

अन्य समाचार