मुख्यपृष्ठखबरेंमंत्री पद के बदले बच्चू कडू को मिली ऑफिस की `जगह'

मंत्री पद के बदले बच्चू कडू को मिली ऑफिस की `जगह’

सामना संवाददाता / मुंबई 

कैबिनेट विस्तार रुके होने से शिंदे-फडणवीस सरकार में पहले से ही नाराज चल रहे मंत्री पद की उम्मीद लगाए बैठे `प्रहार जन शक्ति’ पार्टी के विधायक बच्चू कडू को खुश करने के लिए राज्य सरकार ने चर्चगेट स्थित जनता दल सेक्युलर पार्टी का कार्यालय प्रहार जन शक्ति को सौंपने का पैâसला किया है। लेकिन सरकार के इस फैसले का जनता दल के नेताओं में नाराजगी व्याप्त है।
ज्ञात हो कि राज्य सरकारों ने मंत्रालय के परिसर में कई राजनीतिक दलों को कार्यालय प्रदान किए हैं। इसी के तहत वर्ष १९६२ में एलआईसी के पास १० सीडीओ बैरक जनता दल को दे दिए गए थे, जिसके सारे कागजात पार्टी के पास हैं. पिछले साठ सालों से पार्टी यहीं से काम कर रही है। लेकिन जनता दल सेक्युलर पार्टी को बिना कोई नोटिस दिए राज्य सरकार ने इस कार्यालय में विधायक बच्चू कडू की प्रहार जनशक्ति पार्टी के लिए सात सौ फीट और जनता दल के लिए मात्र दो सौ फीट जगह आरक्षित करने का आदेश जारी कर दिया है।
सरकार के इस फैसले का जनता दल के नेताओं ने कड़ा विरोध किया है। यदि राज्य सरकार ने यह निर्णय नहीं बदला तो पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक श्रीपतराव शिंदे, प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक प्रो. शरद पाटिल, प्रभारी अध्यक्ष नाथाभाऊ शेवाले ने दी है।
कार्यालय का राजनीतिक इतिहास
जनता दल का यह कार्यालय राज्य में कई आंदोलनों का केंद्र रहा है। वरिष्ठ समाजवादी नेता मृणाल गोरे, मधु दंडवते, निहाल अहमद, एस. एम. जोशी, ग. प्र. प्रधान, नानासाहेब गोरे, बापूसाहेब कालदाते आदि इसी कार्यालय से पार्टी का काम करते थे। तत्कालीन प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई, चंद्रशेखर, विश्वनाथ प्रताप सिंह, पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा, इंद्रकुमार गुजराल जैसे नेता भी इस कार्यालय में आ चुके हैं।

अन्य समाचार