मुख्यपृष्ठस्तंभबकलोली : किसी को बदनाम न करो

बकलोली : किसी को बदनाम न करो

श्रीकिशोर शाही

आजकल सोशल मीडिया ने तो हद ही कर दी है। यहां कोई भी शख्स अपनी बात बिंदास तरीके से कर सकता है। मगर कुछ लोग बकलोली में महारत रखते हैं और बिना कुछ भी सोचे-विचारे कुछ भी लिखते रहते हैं। किसी प्रतिष्ठित शख्स को बदनाम करना हो तो उसके लिए भी यह आसान पलेटफॉर्म है। अब एक कथा वाचिका के बारे में कुछ लोगों ने कुछ ऐसी ही बात उड़ानी शुरू कर दी जो नहीं करनी चाहिए थी। कथावाचिका देवी चित्रलेखा एक आध्यात्मिक गुरु हैं और सोशल मीडिया पर उनके लाखों प्रशंसक भी हैं। उनके इंस्टाग्राम पर २.१ मिलियन फॉलोवर्स हैं। हाल ही में एक इंटरव्यू में देवी चित्रलेखा से पूछा गया, ‘कई लोगों का कहना है कि आपने मुस्लिम से शादी की है। इस बात में कितनी वास्तविकता है?’ इस पर देवी चित्रलेखा ने कहा कि ‘न मैंने उस वक्त इसका कोई विरोध किया था और न अब करूंगी।’ बता दें कि जो लोग सत्य जानते हैं उन्हें पता है कि वे ब्राह्मण परिवार से हैं तथा उनका नाम माधव तिवारी है। वे कहती हैं, ‘मैं अकेली नहीं हूं इस संसार में। जैसे प्रभु श्री कृष्ण हुए, राम हुए, लोगों ने तो उन पर भी कलंक लगाए। हम तो साधारण इंसान हैं। यदि आप मीठा खाते हैं तो आपको खट्टा भी खाना ही होता है। मैंने उस वक्त भी अपने जीवन पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ने दिया था। न आगे पड़ने दूंगी।’ अब देवी का जवाब बहुत कुछ कहता है और साथ ही उन्हें बदनाम करनेवालों की बकलोलों के मुंह पर तमाचा है।
जाना था गोवा पहुंच गए अयोध्या
जाना था जापान, पहुंच गए चीन…वाला गाना तो आपने सुना ही होगा। खैर वो तो गाना था, पर उसी तर्ज पर एक शख्स को अपनी पत्नी को लेकर जाना था गोवा पर वो पहुंच गया अयोध्या। अब यह बकलोली उसके ऊपर काफी भारी पड़ी। अब इस बात पर पत्नी इतनी नाराज हुई कि वो सीधे फेमिली कोर्ट में तलाक के लिए पहुंच गई है। यह मामला मध्य प्रदेश का है। इस महिला का दावा है कि पति ने उसे हनीमून पर गोवा ले जाने का वादा किया था, लेकिन जब वक्त आया तब वो अयोध्या-वाराणसी घुमाने ले गया। सोशल मीडिया पर यह मामला चर्चा का विषय बन गया है। महिला की शादी ५ महीने पहले हुई थी। रिपोर्ट के अनुसार, पत्नी लगातार हनीमून के लिए गोवा जाने का दवाब बना रही थी। महिला ने अपनी तलाक याचिका में कहा है कि उसका पति आईटी सेक्टर में काम करता है और अच्छी सैलरी कमाता है। वह खुद भी अच्छा कमाती है और हनीमून के लिए गोवा या विदेश जाना उनके लिए कोई बड़ी बात नहीं थी। लेकिन घूमने जाने से पहले पति ने अयोध्या और वाराणसी की फ्लाइट बुक कर ली। अब १० दिन बाद लौटते ही महिला ने फेमिली कोर्ट में तलाक की अर्जी लगा दी।

अन्य समाचार