मुख्यपृष्ठनए समाचारबालासाहेब ठाकरे समृद्धि महामार्ग का विस्तार गढ़चिरोली तक होगा – एकनाथ शिंदे

बालासाहेब ठाकरे समृद्धि महामार्ग का विस्तार गढ़चिरोली तक होगा – एकनाथ शिंदे

सामना संवाददाता / मुंबई। बालासाहेब ठाकरे समृद्धि महामार्ग का विस्तार गढ़चिरोली तक करने के लिए १४ फरवरी को परियोजना रिपोर्ट तैयार करने के लिए टेंडर मंगाए गए हैं। टेंडर की आखिरी समयसीमा ३१ मार्च २०२२ तक है। यह जानकारी सार्वजनिक निर्माणकार्य (सार्वजनिक उपक्रम) मंत्री एकनाथ शिंदे ने विधानसभा में दी। उन्होंने बताया कि मुंबई से नागपुर के बीच १६ पैकेज में बन रहे हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे महाराष्ट्र समृद्धि महामार्ग को इस साल सितंबर २०२२ तक शुरू करने की योजना है।
हालांकि कोरोना संक्रमण के चलते ठेकेदारों को काम के लिए अतिरिक्त समय दिया गया है इसलिए इसके शुरू होने में देरी भी संभव है। भाजपा के धर्मराव आत्राम ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के जरिए समृद्धि महामार्ग के गढ़चिरोली तक विस्तार उसके फीजिबिलिटी रिपोर्ट और सलाहकार कंपनी नियुक्त करने से जुड़ा सवाल उठाया था। जवाब में मंत्री ने बताया कि इसके विस्तार के लिए नागपुर से गोंदिया, गोंदिया से गढ़चिरोली और गढ़चिरोली से नागपुर के बीच इन मार्गों का त्रिकोण बनाया जाएगा। इन मार्गों की दूरी करीब १५०-१५० किमी होगी। एमएसआरडीसी के जरिए यह काम पूरा किया जाएगा। शिंदे ने कहा कि गोंदिया, गढ़चिरोली जैसे आदिवासी और नक्सल प्रभावित जिलों के विकास के लिए इन इलाकों में परिवहन को अधिक गतिमान होना आवश्यक है। इसके लिए समृद्धि महामार्ग का विस्तार नागपुर से गोंदिया तथा नागपुर से गढ़चिरोली तक किया जाएगा। इसमें व्यवहार्यता रिपोर्ट, विस्तृत परियोजना रिपोर्ट और पूर्व-निविदा कार्य शामिल हैं। टेंडर में नागपुर से गोंदिया, गोंदिया से गढ़चिरोली और गढ़चिरोली से नागपुर तक का काम शामिल है। इस महामार्ग के चलते छत्तीसगढ़, तेलंगाना और आंध्रप्रदेश जैसे राज्यों में आवाजाही भी आसान होगी।

अन्य समाचार