मुख्यपृष्ठनए समाचारउबल रहा बलूचिस्तान डर रहा पाकिस्तान! ... बढ़ती हत्याओं, अपहरणों के विरोध...

उबल रहा बलूचिस्तान डर रहा पाकिस्तान! … बढ़ती हत्याओं, अपहरणों के विरोध में प्रदर्शन

एजेंसी / इस्लामाबाद
पाकिस्तान का बलूचिस्तान सूबा इन दिनों नागरिकों के विरोध की वजह से उबल रहा है। इन प्रदर्शनों की शुरुआत पिछले साल हो गई थी, जो नए साल में भी जारी हैं। इस पूरे विरोध का चेहरा एक्टिविस्ट महरंग बलोच बनी हुई हैं। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि बलूचिस्तान में हत्याएं और अपहरण की घटनाएं बहुत अधिक बढ़ गई हैं। उधर पाकिस्तान की सेना ने गुस्से को शांत करने के लिए कार्रवाई भी तेज कर दी है, जिसका मानवाधिकार संगठनों ने विरोध किया है। इस बीच, बलूच संगठनों ने अपनी मांगों को लेकर संयुक्त राष्ट्र के दफ्तर के सामने प्रदर्शन करने का एलान किया है।
बता दें कि बलूचिस्तान में बढ़ते मानवाधिकार के उल्लंघन को लेकर बवाल मचा हुआ है। यहां जबरन गायब किए जाने और न्यायेतर हत्याओं (एक्स्ट्रा ज्यूडिशियल किलिंग) को खत्म करने की मांग को लेकर लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। इन प्रदर्शनों की शुरुआत पिछले साल दिसंबर में हुई थी, जो अब भी जारी हैं। हालिया घटनाक्रमों की बात करें तो ३ जनवरी को देशव्यापी `शटर डाउन स्ट्राइक’ आयोजित की गई, जिसमें हजारों लोगों ने भाग लिया। यह हड़ताल देश के कार्यवाहक प्रधानमंत्री अनावर उल हक काकर के एक बयान के बाद बुलाई गई, जिसमें उन्होंने प्रदर्शनकारियों को आतंकवादी करार दिया था। इससे पहले ईरानी सीमा के पास तुरबत से पाकिस्तानी राजधानी इस्लामाबाद तक १,८०० किलोमीटर लंबा मार्च भी निकाला गया था। इस मार्च में वो लोग शामिल हुए थे, जिनके परिजन या तो कई दशकों से लापता हैं या कथित तौर पर न्यायेतर तरीके से मारे गए हैं।

अन्य समाचार