मुख्यपृष्ठनए समाचारसफाई के बहाने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर भंडारों पर रोक गलत कदम: महापौर

सफाई के बहाने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर भंडारों पर रोक गलत कदम: महापौर

– महापौर ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र, भंडारा लगाने की मांग की

सामना संवाददाता / मथुरा

मथुरा-वृंदावन नगर निगम के महापौर विनोद अग्रवाल ने जिला प्रशासन के सफाई के बहाने भंडारों पर रोक लगाने के कदम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखित पत्र में प्रशासन के इस कदम को गलत बताकर मथुरा में पूर्व की भांति श्रद्धालुओं के लिए भंडारों के आयोजनों की अनुमति देने की मांग की है।
भाजपा के महानगर अध्यक्ष एवम महापौर विनोद अग्रवाल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर जन्मभूमि के आस-पास जिला एवं पुलिस प्रशासन को त्वरित निर्देश जारी कर भंडारों को लगाने की परमीशन प्रदान कराने की मांग की है।
महापौर विनोद अग्रवाल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखे पत्र में कहा गया है कि मथुरा में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर जन्मभूमि के आस-पास स्थानीय निवासियों के द्वारा पिछले काफी वर्षों से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए भंडारों का आयोजन किया जाता रहा है। इस वर्ष जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन द्वारा आस-पास के क्षेत्र को स्वच्छता के लिए प्रतिबंधित किया जा रहा है, इसके कारण स्थानीय निवासियों में चर्चा है कि हमारे मुख्यमंत्री तो हिंदू उत्सवों को धूमधाम से मानना चाहते हैं, लेकिन प्रशासन सफाई के बहाने ठीक उसी प्रकार से भंडारों पर प्रतिबंध लगा रहा है, जिस प्रकार से विपक्षी पार्टियों के द्वारा कांवड़ यात्रा, दुर्गा पूजा आदि पर प्रतिबंध लगाते थे। महापौर ने मुख्यमंत्री से मांग करते हुए लिखा कि जिला एवं पुलिस प्रशासन को त्वरित निर्देश जारी कर भंडारों को लगाने की परमीशन प्रदान कराने की बात कही।
महापौर के इस पत्र की बृजवासियों द्वारा सराहना की जा रही है। उन्होंने कहा है कि बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को भोजन आदि की व्यवस्था सही रूप से नहीं हो पाती। अब परमीशन मिलने से पूर्व की भांति अच्छे से उनकी सेवा हो सकेगी। महापौर ने एक साहसीय बात कही है। प्रशासन को महापौर की बात को मनाना चाहिए था और बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए भोजन भंडारों की व्यवस्था पहले जैसी होनी चाहिए।

अन्य समाचार