मुख्यपृष्ठसमाचारमुख्तार के साथ बाराबंकी एंबुलेंस मामले का आरोपी अफरोज की ४३ करोड़...

मुख्तार के साथ बाराबंकी एंबुलेंस मामले का आरोपी अफरोज की ४३ करोड़ की संपत्ति कुर्क

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ
बाहुबली मुख्तार अंसारी के गिरोह के सक्रिय सदस्य अफरोज के परिवार से जुड़ी ४३ करोड़ की संपत्ति कुर्क की गई। अफरोज के भाई उमेर खां की पत्नी यास्मीन बानो के नाम से ओबरा में करीब दो करोड़ का मकान और पटवध में ४० करोड़ की संपत्ति कुर्क की गई। बाराबंकी में दर्ज गैंगस्टर एक्ट से जुड़े मामले में कार्रवाई हो रही है। मंगलवार को ओबरा तहसील में गिरोह के सक्रिय सदस्य अफरोज खां के परिवार से जुड़ी ४३ करोड़ की चार संपत्ति बाराबंकी पुलिस ने कुर्क की। इसमें ओबरा बाजार में निर्मित दो करोड़ रुपए का मकान और पटवध गांव में करीब ४० करोड़ रुपए मूल्य की दुकानें व जमीन है। यह संपत्ति अफरोज के भाई उमेर खां की पत्नी यास्मीन के नाम पर है। मुख्तार गिरोह पर जिले में यह पहली कार्रवाई है। माफिया से संबंध रखनेवाले अन्य लोगों में भी इस कार्रवाई के बाद खलबली मच गई है।
बाराबंकी के बहुचर्चित एंबुलेंस प्रकरण में मुख्तार अंसारी के साथ गाजीपुर निवासी अफरोज खां उर्फ चुन्नू भी मुख्य आरोपी है। उस पर आपराधिक षडयंत्र कर दस्तावेजों के आधार पर एंबुलेंस खरीदने और गिरोह बनाने पर गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है। इसी मामले में बाराबंकी के जिलाधिकारी न्यायालय ने अफरोज खां व उसके भाई उमेर खां से जुड़ी संपत्तियों को कुर्क करने का आदेश दिया है। तीन सितंबर को जारी आदेश के अनुपालन में बाराबंकी पुलिस मंगलवार को ओबरा पहुंची। तहसील प्रशासन से मिलकर कुर्की की कार्रवाई शुरू की। एसडीएम राजेश सिंह की मौजूदगी में पुलिस ने ओबरा के बिल्ली मारकुंडी में निर्मित उमेर खां की पत्नी यास्मीन बानो के नाम पर दर्ज तीन मंजिला मकान व जमीन को कुर्क किया। इसकी मुनादी कराते हुए दीवारों पर सूचना अंकित कराई गई। एसडीएम राजेश सिंह ने बताया कि मकान की कीमत करीब दो करोड़ १० लाख और जमीन करीब २३ लाख रुपए की है। इसी तहसील क्षेत्र के पटवध में करीब ३९ करोड़ रुपए मूल्य की जमीन और १.६० करोड़ मूल्य का कटरा (दुकानें) कुर्क किया गया है।

अन्य समाचार