मुख्यपृष्ठनए समाचारबरखा रानी आई : बिजली की खपत में कमी लाई!

बरखा रानी आई : बिजली की खपत में कमी लाई!

  •  प्रतिदिन घटा ४००० मेगावाट बिजली का उपयोग
  •  एसी, पंखे, और कूलर का इस्तेमाल हुआ कम

सामना संवाददाता / मुंबई
महाराष्ट्र के कई क्षेत्रों में दो दिन पहले बरखा रानी ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है। बरखा रानी की मौजूदगी के साथ अब बिजली की खपत में तेजी से कमी आई है। आंकड़ों के मुताबिक राज्य में प्रतिदिन बिजली की खपत में ४,००० मेगावाट की गिरावट दर्ज की गई है। इतना ही नहीं लोगों ने एसी, पंखे और कूलर का भी इस्तेमाल करना कम कर दिया है। ८ जून तक राज्यभर में महावितरण से २२,००० मेगावाट से अधिक बिजली उपयोग जा रही थी, जो आज घटकर १८,००० मेगावाट हो गई है। इसलिए थर्मल पावर प्लांट को बड़ा ब्रेक मिला है।
उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र में महावितरण के करीब ढाई करोड़ से अधिक बिजली उपभोक्ता हैं। राज्य में अप्रैल और मई महीने के दौरान तापमान का पारा चढ़ा हुआ था। इस कालावधि में महाराष्ट्र में २४,००० मेगावाट से अधिक बिजली की मांग हो रही थी। जून महीने के पहले सप्ताह में यह मांग घटकर २२,००० मेगावाट तक आ गई। हालांकि बरखा रानी के आगमन के साथ ही बिजली की मांग में और गिरावट दर्ज की गई है। प्री-मानसून के चलते बिजली उपभोक्ताओं द्वारा एसी, पंखा और कूलरों का इस्तेमाल कम कर दिया गया है। इसके चलते अब प्रतिदिन बिजली की मांग १८,००० मेगावाट तक पहुंच गई है। इसके चलते थर्मल पावर प्लांट को बड़ी राहत मिली है।
मुंबई में भी घटी खपत
मुंबई में गुरुवार से प्री-मानसून बारिश शुरू हो गई है। इसके चलते गर्मी से लोगों को बड़ी राहत मिली है। नतीजतन मुंबई की बिजली की मांग ३,४००-३,५०० मेगावाट से घटकर २,७०० मेगावाट हो गई है। बिजली की घटती मांग के चलते सेंट्रल एक्सचेंजों से खरीदी गई बिजली का रेट भी ८ रुपए से कम होकर ५-६ रुपए पर आ गया है।

अन्य समाचार