मुख्यपृष्ठसमाचारश्रद्धालु बन पूर्व डीजीपी ने की ठा.बांके बिहारी मंदिर भगदड़ हादसे की...

श्रद्धालु बन पूर्व डीजीपी ने की ठा.बांके बिहारी मंदिर भगदड़ हादसे की जांच

कमल कांत उपमन्यु / मथुरा

बांके बिहारी मंदिर में हुए हादसे की जांच करने पहुंचे पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह ने मंदिर के गेट नंबर ५ के साथ आस-पास की गलियों की गहनता से निरीक्षण किया। बांके बिहारी मंदिर में हुए हादसे की जांच करने के लिए मंगलवार को शासन द्वारा गठित टीम प्रमुख एवं यूपी के पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह वृंदावन पहुंचे। करीब १२ बजे मंदिर बंद होने पर वीआईपी पार्विंâग से होते हुए बांके बिहारी मंदिर पहुंचे पूर्व डीजीपी ने मंदिर परिसर का निरीक्षण किया। बेहद ही सरल अंदाज में बिना लाव लश्कर के पहुंचे प्रदेश पुलिस के पूर्व मुखिया को कोई पहचान भी नहीं रहा था। भीड़ के बीच साधारण व्यक्तियों की तरह मंदिर परिसर की सभी गलियों का उन्होंने बारीकी के साथ निरीक्षण किया। खासकर मंदिर के गेट नंबर ४ और ५ का गहनता के साथ निरीक्षण कर जायजा लिया। गोपनीय रूप से जांच करने के बाद पूर्व डीजीपी यहां से अपने गंतव्य के लिए निकल गए।
बता दें श्री कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर बांके बिहारी मंदिर में भारी अव्यवस्था एवं भीड़ के दबाव के चलते २ श्रद्धालुओं की दम घुटने से मौत हो गई था, जबकि करीब एक दर्जन श्रद्धालुओं की तबीयत बिगड़ गई। इस मामले में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने हादसे की जांच के लिए यूपी के पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह और अलीगढ़ मंडल के कमिश्नर गौरव दयाल समेत २ सदस्य टीम गठित कर हादसे की जांच कर १५ दिन में रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए थे।

अन्य समाचार