मुख्यपृष्ठनए समाचारचुनाव से पहले भाजपा कराती है दंगा! भास्कर जाधव का गंभीर आरोप

चुनाव से पहले भाजपा कराती है दंगा! भास्कर जाधव का गंभीर आरोप

सामना संवाददाता / मुंबई
शिवसेना नेता और विधायक भास्कर जाधव महाराष्ट्र के दौरे की शुरुआत करने वाले हैं, इसके पहले जाधव ने गुहागर में शिवसेना कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। इस अवसर पर मीडिया से बातचीत करते हुए जाधव ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में भाजपा महाराष्ट्र में दंगा करा सकती है। वर्तमान राजनीतिक परिस्थिति पर बोलते हुए जाधव ने कहा कि पूरे देश की राजनीतिक परिस्थिति को देखेंगे तो यह बात ध्यान में आ जाएगी, जिन-जिन राज्यों में भाजपा की सत्ता आई, उन-उन राज्यों में चुनाव से पहले सांप्रदायिक दंगे हुए हैं। सांप्रदायिक दंगे फैलाए हैं या फैलाना है, यह इतिहास है।
शिवसेना को समाप्त करने के सभी मार्ग समाप्त हो गए हैं, अंतिम मार्ग के रूप में राज्य में कदाचित सांप्रदायिक दंगा कराने का प्रयत्न हो सकता है। ऐसा प्रयास ढाई साल पहले भी हुआ था। कारण कि मुंबई मनपा का चुनाव जीतना है। मुंबई मनपा को जीतना है तो राज्य में सांप्रदायिक दंगा कराने के सिवाय कोई पर्याय नहीं है। उन्हें यह बात पता चल गई है। शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे का अतिशय सौम्य और सभ्य नेतृत्व राज्य के सभी जाति- धर्म के लोगों को पसंद है। मुस्लिम समाज को भी उद्धव ठाकरे का नेतृत्व पसंद है। इसी बात का भाजपा को दुख है। हमने इतनी बड़ी शिवसेना को तोड़ी, फिर भी उनके पक्ष में केवल ४० विधायक गए, इसके बदले में हर जगह चार लाख लोग शिवसेना के साथ गए, यह दृश्य आज महाराष्ट्र अनुभव कर रहा है। इसलिए भाजपा कुछ भी खेल कर सकती है, ऐसा गंभीर आरोप भास्कर जाधव ने भाजपा पर लगाया है।
रामदास कदम एहसान फरामोश!
रामदास कदम के बयान के संदर्भ में पूछे गए सवाल पर भास्कर जाधव ने कहा कि रामदास कदम कौन है? उसका शिवसेना सम्मेलन से क्या संबंध है? रामदास कदम जैसा एहसान फरामोश व्यक्ति हमने नहीं देखा। शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे पर जिस तरह की टिप्पणी कर रहे हैं, जो आरोप लगा रहे हैं, जिस भाषा का उपयोग कर रहे हैं, उसको देखते हुए रामदास कदम इतने एहसान फरामोश होंगे, ऐसी मुझे उम्मीद नहीं थी। जिस उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में दशहरा सम्मेलन होता है, वहां रामदास कदम शिवसेना नेता के रूप में भाषण दिए थे, उस दशहरा सम्मेलन में उद्धव ठाकरे उपस्थित न हों, ऐसा बोल रहे हैं, इसी से समझो रामदास कदम कितना एहसान फरामोश और बेईमान हैं। यह पूरा महाराष्ट्र देख रहा है, ऐसी टिप्पणी जाधव ने की।

अन्य समाचार